जातीय पंचो ने 28 लाख का जूर्माना वसूल कर किया समाज से बहिष्कृत

जागरूक टाइम्स 76 May 24, 2018
दांतराई । कस्बे के समीपवर्ती जीरावल गांव में एक एक्सीडेन्ट विवाद पूरे परिवार की जिंदगी पर भारी पड़ रहा है । स्थिति यह हो गई कि विवाद को लेकर जीवाराम पुत्र साबलाजी रेबरी के परिवार को पंचो ने सिर्फ समाज से बेदखल कर दिया ऊपर से परिवार के सदस्यों का घरो से बाहर निकलना भी मुश्किल कर दिया है । परेशान होकर पीडी़त परिवार ने सोमवार को सिरोही पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंच न्याय दिलाने तथा परेशान कर रहे लोगो को गिरफतार करने कि मांग की है । पीडि़त परिवार के मुखिया ने बताया की समाज द्वारा बहिष्कृत करने के बाद भी परिवार के लोग घर में दूबके रहते है । ऐसे में प्रशासन द्वारा भी कोई न्याय नही मिलने पर परिवार के सदस्यों को गांव छोडऩे को मजबूर होना पड़ रहा है । रेवदर पुलिस थाना क्षैत्र के जीरावल गांव के महादेव पटा के पंचो के फ रमान के बाद समाज से बहिष्कृ त परिवार न्याय के लिए दर-दर भटक रहा है । इस संबंध में पीडित परिवार ने पुलिस थाना में मुकदमा दर्ज करवाया है । इस मामले को लेकर किया था बहिष्कृत । समाज से बहिष्कृ त हूए प्रार्थी ने पारिवाद में बताया की दिनांक ७/दिसम्बर २०१२ को साम करीबन ६ बजे ग्राम हरणी अमरापुरा के पास एक सड़क दुर्घटना में अज्ञात वाहन द्वारा घटित होने से भैराराम पुत्र केसाजी निवासी हरणी अमरापुरा का स्वर्गवास हूआ था । जिसको लेकर दिनांक ४ मार्च २०१६ को सुबह १० बजे जीरावल महादेव पटा के पंचो द्वारा पंचायती कर उक्त दुर्घटना के लिए राजुराम को दोषी करार देते हूए २८ लाख रूपये से दण्डित किया और मुझे और मेरे परिवार को समाज से बहिष्कृत कर दिया । जिस पर मेने लोगो से रूपये अधार ले के पंचो को रूपये दिए । पंचायती को लेकर पंचो ने करीब एक माह तेरह दिन तक परीवाद के घर बैठे रहे और पंचायती चालु रखी और देखी घी का खाना,अफ ीम,डोडा दुगध की मांग की । जिस पर प्राथी ने करीब दस लाख रूपये खर्च किए । इस मामले को लेकर पुलिस थाना रेवदर व कालन्द्री द्वारा दुर्घटना की जांच करवाई गई । जिसमें राजुराम को निर्दोष करार दिया गया । जब प्रार्थी पंचो से रकम मांगी तो समाज से बहिष्कृत का फ रमान जारी कर परीवाद के साथ किसी प्रकार का सम्बंध रखने व उनके घर जाने पर रोक लगाते हूए हुक्का पानी बंद कर दिया । वही मौजूद अन्य समाज के लोगो द्वारा समाज से बहिष्कृत नही करने का पंचो से निवेदन किया गया लेकिन पंच नही माने और वहां से चले गये । इन पंचो के खिलाफ हूआ मामला दर्ज । थानाधिकारी किशनदास ने बताया की रेबारी समाज के जीरावल महादेव जी पटा के कूल २६ पंचो के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है जिसमें आलाराम पुत्र उनाजी,कोनाराम पुत्र हीमाजी,कोनाराम पुत्र सांकलाजी,लखमाराम पुत्र मगाजी,गोकलाराम पुत्र दीपाजी,नारायणलाल पुत्र नींबाजी रेबारी निवासीयान जीरावल,गीमाराम पुत्र रोमाजी,तेजाराम पुत्र सोमताजी,उनाराम पुत्र जोराजी,जीवाराम पुत्र वागाजी,वनाराम पुत्र सोमताजी रेबारी निवासीयान हरणी अमरापुरा,सवाराम पुत्र केराजी,सादलाराम पुत्र वजाजी,त्रिकमाराम पुत्र समरथाजी रेबारी निवासीयान दांतराई,वनाराम पुत्र देवराजी,सादलाराम पुत्र हमीरराम,रूपाराम पुत्र मोडाजी,समेलाराम पुत्र मोडाजी,उकाराम पुत्र भबुताराम,भीखाराम पुत्र हकमाजी,कालाराम पुत्र अचलाजी रेबारी निवासीयान धांण,केवाराम पुत्र लाखाजी,रणछोड़ पुत्र दोनाजी,जोराराम पुत्र भवाजी,वागाराम पुत्र धीराजी,टीलाराम पुत्र सांकलाजी रेबारी निवासीयान जोलपूर के खिलाफ मामला दर्ज हूआ । और जांच शुरू कर दी है । इनका कहना है । जिला पुलिस अधिकक्ष द्वारा भेजा गया परिवाद मिला है और उसके आधार पर परिवादी को थाने में बुलाकर बयान लेकर रेबारी समाज महादेव पटा के २६ पंचो के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है और तब्दीज जारी है । और परिवादी को जल्द ही न्याय दिलाया जायेगा ।

Leave a comment