सरली सरपंच व ग्राम विकास अधिकारी पर नरेगा कार्यों में धांधली का आरोप

जागरूक टाइम्स 436 Aug 8, 2018

जिला कलक्टर को ज्ञापन सौंपकर ग्रामीणों ने की जांच की मांग

खाद्य सुरक्षा मे नाम जुड़वाने कि मांग

बाड़मेर- ग्राम पंचायत सरली के ग्रामीणों ने खाद्य सुरक्षा में नाम जुड़वाने के साथ सरपंच व ग्राम विकास अधिकारी पर नरेगा कार्यों ने अनियमितता बरतने के साथ धांधली करने का आरोप लगाते हुए बाड़मेर जिला कलक्टर को ज्ञापन सौंपकर जांच करवाने की मांग की है।

यह भी पढ़े : भीनमाल में मचा हड़कंप, एक डॉक्टर और अस्पताल संचालक को उठाकर ले गई टीम

ग्रामीणो ने बताया कि सरली ग्राम पंचायत मे काफी गरीब लोग निवास कर रहे हैं जो खाद्य सुरक्षा योजना से जुड़े नहीं है। उन्होने बताया कि इस संबंध मे पिछले एक वर्ष मे बाड़मेर उपखंड अधिकारी को कई बार प्रार्थना पत्र ग्रामीणो द्वारा प्रस्तुत किए जा चुके है। लेकिन, अभी तक गाँव के ग्रामीण खाद्य सुरक्षा से वंचित है। 

यह भी पढ़े : अस्पताल में कार्यरत महिला से शराबी ने की छेड़छाड़

ज्ञापन में ग्रामीणों ने बताया कि सरपंच व ग्राम विकास अधिकारी नरेगा कार्य मे जॉब कार्ड से मिली आधी राशि हमे देनी पड़ेगी, नहीं तो हम कार्य नहीं करवाएंगे। ग्रामीणों का आरोप है कि पिछले काफी समय से हम गरीब ग्रामीणों के ना तो पैसे जमा हो रहे है और ना ही किसी प्रकार का कार्य करवाया जा रहा है। उनका कहना है कि इससे पूर्व भी सरपंच व ग्राम विकास अधिकारी की शिकायत ग्रामीणों द्वारा दी गई थी। लेकिन, कोई कार्यवाही नहीं हुई। 

यह भी पढ़े : मोटरसाइकिल फिसलने से एक की मौत, दूसरा घायल 

ग्रामीणों का आरोप है कि मस्टरोल व अन्य दस्तावेज सरपंच अपने पास ही रखता है। जो लोग अपनी मजदूरी का आधा हिस्सा देते हैं उन्हीं का नाम मस्ट्रोलो मे लिखा जाता है। उनका आरोप है कि पुराने टांको का नवीनीकरण कर निर्माण सामग्री हड़प ली जाती है। जिला कलक्टर को दिए ज्ञापन में ग्रामीणों ने खाद्य सुरक्षा में नाम जुड़वाने के साथ सरपंच व ग्राम विकास अधिकारी पर नरेगा कार्यों में धांधली का आरोप लगाते हुए जांच करवाने की मांग की है।

ताज़ा खबरों के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करे ...

Leave a comment