मोदी ने राफेल घोटाले में रचा इतिहास: मोधवडिया

जागरूक टाइम्स 247 Aug 28, 2018

- कांग्रसे ने राफेल घोटाले को देश में अब तक का सबसे बड़ा घोटाला करार दिया

जोधपुर @ जागरूक टाइम्स

गुजरात कांग्रेस कमेटी के पूर्व अध्यक्ष अर्जुन मोधवाडिया ने मोदी सरकार पर आरोप लगाया है कि उन्होंने कांग्रेस की ओर से फ्रांस के साथ किए गए राफेल सौदे को निरस्त कर अपने स्तर पर नए सौदे में करोड़ों रुपए का घोटाला किया है। साथ ही देश के साथ आर्थिक और सुरक्षात्मक घोटाला करके इतिहास रचाया है। वे मंगलवार को जोधपुर प्रवास पर पत्रकारों से रूबरू होकर राफेल घोटाले का खुलासा कर रहे थे। 

उन्होंने इस घोटाले को देश का अब तक का सबसे बड़ा घोटाला करार दिया है। उन्होंने आरोप लगाया कि एक तरफ जहां मोदी खुद को देश की सुरक्षा और संरक्षा का मुख्य चौकीदार बताते है। वहीं वे इस प्रकरण में घोटाला करके अपने वित्तीय सलाहकार और सहयोगी की रक्षा संसाधन निर्माण कंपनी के भागीदार बन गए हैं। उन्होंने बताया कि कांग्रेस ने 2012 में जिस राफेल को 526 करोड़ में लडाकू जहाज खरीदना तय किया था। उसको 1670 करोड़ रुपए में खरीद का इकरार किया है। उसका खुलासा वे ना तो संसद में कर रहे हैं और नहीं अपनी मन की बात कार्यक्रम में। एक तरफ प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और रक्षा मंत्री गोपनीयता की शर्त की दुहाई देकर 36 राफेल लड़ाकू जहाजों की खरीद मूल्य संसद को बताने से इंकार कर रहे है। वहीं भारत और फ्रांस के बीच इस सौदे को लेकर ऐसा कोई करार नहीं हो रहा है। वहीं रिलायंस और राफेल कंपनी की ओर से इस सौदे का पूरा ब्यौरा सार्वजनिक किया जा रहा है।

यह भी लगाए आरोप

उन्होंने आरोप लगाया कि राफेल के प्रकरण में मोदी ने केबिनट कमेटी ऑन सिक्युरिटी तथा डिंफेस प्रोक्योरमेंट प्रॉसिजर की भी धज्जियां इस घोटाले में उड़ाई गई है। उन्होंने सौदे के अनुसार सरकारी कंपनी हिन्दुस्तान एयरोनाटिक्स लिमिटेड से 36 हजार करोड़ रुपए का ऑफसेट कॉन्ट्रेक्ट छीना और आनन-फानन में बनी रिलयाक डिफेंस ऑफसेट कांन्ट्रेक्ट और 1 लाख करोड़ रुपए का लाइप साइकल कांट्रेक्ट दे दिया। उन्होंने आरोप लगाया कि मोदी एक तरफ तो खुद को जनता के जान-माल की सुरक्षा करने वाला चौकीदार बताते हैं, लेकिन उन्होंने जो 12 दिन पुरानी कंपनी को हजारों करोड़ का ठेका दिया है। उससे जाहिर होता है कि मोदी भी इस कंपनी में भागीदार है।

Leave a comment