दलित युवक की पीट पीट कर हत्या, दो गिरफ्तार

जागरूक टाइम्स 1447 Jul 24, 2018

- मुस्लिम युवती के प्यार में मारा गया दलित

दुर्गसिंह राजपुरोहित @ जागरूक टाइम्स

बाड़मेर. अलवर में गोतस्करी के शक में मॉब लिंचिंग से अकबर की मौत के मामले ने सड़क से लेकर संसद तक घमासान मचा रखा है। तो दूसरी तरफ बाड़मेर जिले में प्रेम प्रसंग के चलते एक दलित युवक को षड्यंत्र के तहत मौत के घाट उतार दिया गया और बाद में उसे मॉब लिंचिंग का रूप देने की कोशिश की गई। कसूर सिर्फ इतना था कि इस दलित युवक ने मुस्लिम लड़की से प्यार किया था। फिलहाल, पुलिस ने इस मामले में दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

अलवर की घटना आपराधिक थी, जबकि बाड़मेर की घटना सामाजिक है। फिर भी मीडिया ने रकबर की मौत को देश की घटना बना दिया, जबकि एक दलित युवक द्वारा एक मुस्लिम लड़की से प्यार करने को इतना बड़ा गुनाह बना दिया कि उसकी हत्या कर दी। पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक बाड़मेर जिले के भिंडे का पार गांव के 22 साल के दलित युवक खेतराम भील की पीट-पीट कर हत्या कर दी। पुलिस का कहना है कि 22 साल के दलित युवक की इसलिए हत्या कर दी गई क्योंकि उसका एक मुस्लिम लड़की से प्रेम प्रसंग चल रहा था। पुलिस का कहना है कि खेतराम भील की पिटाई से पहले दोनों हाथ और पैर बांध दिए गए थे। उसके बाद पीट-पीट कर मार दिया गया। पुलिस की प्राथमिक जांच मेें भी प्रेम प्रसंग के चलते हत्या करने की बात सामने आई है।

षड्यंत्र के तहत बुलाया और कर दी हत्या

जानकारी के मुताबिक दलित युवक खेतराम भील की षड्यंत्र के तहत हत्या की गई है और बाद में इसे मॉब लिंचिंग बनाया गया है। आरोप है कि दलित युवक खेतराम मुसलमान परिवार महबूब खान के घर में काम कर रहा था। उसी घर में एक लड़की से उसे प्यार हो गया। घर के लोगों ने कई बार दोनों को एक साथ पकड़ा भी, लेकिन पुलिस में शिकायत करने की बजाय पंचायत में सुलझाया। बाद में उन लोगों ने उस युवक को ही ठिकाने लगाने के लिए मॉब लिंचिंग की योजना बनाई। बीते शुक्रवार को दलित युवक खेतराम भील को सद्दाम खान और हयात खान ने घर से बुलाया और साथ चलने को कहा। खेतराम को दोनों खेत की तरफ ले गए, जहां पहले से ही अमर खान, अकबर खान, अनवर खान, रहीम खान, मुहीब खान, पठानी खान तथा शौकत खान मौजूद थे। इन लोगों ने भील के हाथ-पैर बांधकर पीटना शुरू कर दिया। इतनी पिटाई से वह मरणासन्न हो गया। इस घटना को मॉब लिंचिंग बनाने के लिए खेतराम की घटना स्थल से 500 मीटर दूर ले जाकर दोबारा पीट-पीट कर हत्या कर दी। साजिश के तहत इतनी दर्दनाक घटना को अंजाम दिया गया।

भाई लगाया मामला दबाने का आरोप

इस बात का खुलासा तीन दिन बाद हुआ मृतक के भाई हीराराम भील के अनुसार दलित वर्ग इस क्षेत्र में मात्र दो फीसद हैं जबकि नब्बे फीसद अल्पसंख्यक यहाँ हैं। अल्पसंख्यको के नेता अपराधियों को लगातार बचाने के लिए जुटे हुए हैं। हम बहुत कम है, इसलिए हमारी आवाज दबाई जा रही है। उन्होंने कहा कि मेरे भाई को लड़की से फोन करवा कर बुलाया और मिलकर मार डाला।

दो आरोपी गिरफ्तार, अन्य की तलाश जारी

चौहटन पुलिस उपअधीक्षक सुरेन्द्र कुमार प्रजापत ने बताया कि भिण्डे का पार निवासी खेताराम भील की हत्या के मामले में दो युवक पठाई खान पुत्र भाखर खान और अनवर खान पुत्र साले मोहम्मद निवासी मेकरनवाला को गिरफ्तार किया गया है। जिन्हें मंगलवार को कोर्ट में पेश किया और सात दिन का पुलिस रिमांड प्राप्त किया है। पुलिस इनसे लगातार पूछताछ कर हत्या में शामिल दूसरे लोगों की तलाश में जुट गई है। पुलिस ने इन लोगों को दो दिन पूर्व ही हिरासत में ले लिया था। पूछताछ में उन्होंने यह बात कबूली है कि प्रेम प्रसंग के चलते उन्होंने दलित खेताराम की पीट पीट कर हत्या कर दी। इसके बाद पुलिस ने हत्या के मामले में गिरफ्तार कर लिया। पुलिस उप अधीक्षक के मुताबिक इन दोनों आरोपियों से पूछताछ कर हत्या के मामले में शामिल अन्य आरोपियों की पहचान करने के साथ ही पोस्टमार्टम रिपोर्ट, मौत के कारणों की पड़ताल करेगी। मृतक के शरीर पर कई जगह गहरे घाव बने हुए थे और गला घोटने के भी सबूत मिले हैं।

Leave a comment