वैवाहिक साइट पर विज्ञापन देना पड़ा मंहगा, महिला हुई 22 लाख की ठगी का शिकार

जागरूक टाइम्स 124 Aug 4, 2018

पुणे । शादी के लिये वैवाहिक साइट पर विज्ञापन देना एक महिला को काफी मंहगा साबित हुआ। महाराष्ट्र के पुणे में एक महिला इंजिनियर ऐसी ही ठगी का शिकार हो गई। एक ठग ने इंजिनियर को शादी का झांसा देकर उससे 20 लाख रुपये ठग लिए। ठग ने इसके लिए पुराना तरीका ही अपनाया। उसने महिला से कहा कि वह एयरपोर्ट पर पकड़ लिया गया है और कस्टम वाले उसे छोड़ने के रुपये मांग रहे हैं। महिला ने अपने पास से और दोस्तों की मदद से 22.54 लाख रुपये जुटाकर उसे दे दिए।

महिला को ठगी का एहसास तब हुआ, जब रुपये मिलने के बाद उस ठग ने उसका फोन उठाना बंद कर दिया। महिला ने संदिग्ध व्यक्ति के खिलाफ देहू रोड थाने में एफआईआर दर्ज कराई है। पुलिस ने बताया कि महिला एक मल्टीनेशनल सॉफ्टवेयर कंपनी में इंजिनियर है। वह रावेत में रहती है। उसने मैट्रिमनियल साइट पर शादी का विज्ञापन दिया था। एक महीने बाद एक व्यक्ति ने उससे संपर्क किया। उस व्यक्ति ने महिला से बताया कि वह एक डॉक्टर है और लंदन में रहता है। उसने महिला के सामने शादी का प्रस्ताव रखा। दोनों के बीच फोन पर और मेसेज के जरिए बात होने लगी।

असिस्टेंट इंस्पेक्टर अर्जुन पवार ने बताया कि उस व्यक्ति ने दो अन्य महिलाओं के नंबर दिए और बताया कि वे दोनों उसकी बहनें हैं। वे दोनों महिलाएं भी महिला से बात करने लगीं। इसी दौरान आरोपी व्यक्ति ने महिला को बताया कि वह 23 जुलाई को भारत आ रहा है और यहां आकर उसके अभिभावक से शादी का बात करेगा। 

23 जुलाई को महिला के पास एक फोन आया और फोन करने वाले ने बताया कि वह मुंबई एयरपोर्ट में कस्टम ऑफिसर है। उसने कहा कि उसके होने वाले पति के पास गैरकानूनी ढंग से 72,000 पॉन्ड कैश मिला है, इसलिए उसे एयरपोर्ट पर पकड़ लिया गया है। फोन करने वाले ने कहा कि अगर वह चाहती है कि उसके होने वाले पति को छोड़ दिया जाए तो उसे जुर्माना भरना पड़ेगा। कुछ देर बाद महिला को एक दूसरे व्यक्ति ने फोन करके कहा कि वह आरबीआई का अधिकारी है।

उसने एक अकाउंट नंबर देकर कहा कि उसमें वह जुर्माने की रकम ट्रांसफर कर दे। महिला ने अपने जानने वालों से रुपये लेकर अकाउंट में ऑनलाइन ट्रांसफर कर दिए। उसके बाद से न तो उस व्यक्ति का फोन आया न ही उसका फोन लगा। आरोपी ने बहनों के नंबर बताकर जो दो नंबर दिए थे वह भी बंद पाए गए। पीड़ित ने जब मुंबई एयरपोर्ट के कस्टमर केयर पर फोन किया तब कहीं जाकर उसे एहसास हुआ कि वह ठगी का शिकार हुई है। 

Leave a comment