बहुचर्चित मांगीलाल बंजारा हत्याकांड का पुलिस ने किया पर्दाफाश

IANS | Mar 15, 2021


पाली एसपी कालूराम रावत ने प्रेस वार्ता के जरिए इस हत्याकांड का पूरा पर्दाफाश किया। पाली एसपी कालूराम रावत ने मीडिया को जानकारी देते हुए बताया कि दयालपुरा ग्राम मांगीलाल बंजारा हत्याकांड में मुख्य आरोपी उसका पुत्र ओमाराम एवं पुत्रवधू सन्तोष ही निकले। दोनों ने अपने पिता मांगीलाल बंजारा को पहले खाने में जहर दिया उसके बाद साक्ष्य मिटाने के लिए उसको जला दिया। पुलिस ने उक्त दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है और आज न्यायालय में पेश किया जाएगा । वहीं आरोपियों ने गहन पूछताछ में अपना जुर्म कबूल लिया गौरतलब रहे कि 17 फरवरी की रात पाली जिला सदर थाना के निकट दयालपुरा गांव में एक अध जली हुई लाश उक्त मांगीलाल बंजारा की मिली थी तब से पुलिस सात अलग-अलग टीमें बनाकर इस हत्याकांड का पर्दाफाश और खुलासे में लगी हुई थी । ग्रामीण सीओ सरवण दास सदर थाना टीम एवं अलग-अलग टीमों द्वारा साइबर पुलिस एवं स्थानीय पुलिस की मदद से गहन अनुसंधान और खोजबीन ,साक्ष्य और प्रयास करने पर इस हत्याकांड का खुलासा किया। पाली एसपी ने बताया कि पुलिस लगातार 17 फरवरी से इस हत्याकांड के खुलासे के लिए प्रयास कर रही थी और सारे साक्ष्यों को एकत्र किया गया टीमों ने कठोर अनुसंधान कर इस हत्याकांड का आज खुलासा किया। म्रतक के बेटे बहू ने ही पिता की हत्या की। म्रतक द्वारा ओमा राम के सामने अपनी पत्नी को अपशब्द गाली गलौच करने से सुब्द हो हत्या करना कबूला।
बार बार पिता उसकी पत्नी को गाली गलोच करने से उन्होंने हत्या की साजिश रची। इस हत्याकांड के खुलासे के लिए ग्रामीण सीओ सरवन दास ,थानां अधिकारी सदर सहित 39 पुलिस कर्मियों की 7 टीमे ओर आला अधिकारियों लगे रहे।