सरहदी बाड़मेर में एक दिन पूर्व श्रवण सिंह की हत्या के मामले में लोगो का फूटा गुस्सा

IANS | Feb 23, 2021

एक पुलिसकर्मी की संदिग्ध भूमिका को लेकर लोगो मे रोष व्याप्त है। मृतक के परिजनों और लोगों ने शव को लेने से इंकार करते हुए पुलिसकर्मी की गिरफ्तारी और उसके निलंबन की मांग करते हुए जिला पुलिस अधीक्षक आंनद शर्मा को ज्ञापन सौंपा। सरहदी बाड़मेर में एक दिन पूर्व श्रवण सिंह की हत्या के मामले में लोगो का गुस्सा फूट पड़ा है। लोगों ने शव को रखकर मोर्चरी के आगे प्रदर्शन कर रहे है। धरने के चलते मोर्चरी को पुलिस छावनी में तब्दील कर दिया गया है। मोर्चरी के आगे कोतवाल, सदर, ग्रामीण, शिव, रामसर, महिला पुलिस थाने का जाब्ता तैनात किया गया। मामले को लेकर मृतक श्रवण सिंह के परिजन मोर्चरी में धरने पर बैठ गए है। धरने पर पूर्व जिला परिषद सदस्य गणपत सिंह भाटी, कांग्रेस के युवा नेता आजाद सिंह,जोगेंद्र सिंह चौहान सहित सैकड़ो लोगो ने धरने पर बैठ कर मामले में हैड कांस्टेबल नेमसिंह द्वारा साक्ष्य मिटाने के आरोप लगाते हुए उसकी गिरफ्तारी की मांग करते हुए बाड़मेर पुलिस अधीक्षक को ज्ञापन सौंपा। मामले को लेकर बाड़मेर पुलिस अधीक्षक आंनद शर्मा का कहना है कि मामले की जांच जारी है लोगो की मांग पर अग्रिम कार्यवाई की जाएगी। मामले की जांच चौहटन उप पुलिस अधीक्षक द्वारा की जा रही है। वही पूरे प्रकरण में संदिग्ध मानी जा रही हैड कॉन्स्टेबल नेमसिंह की भूमिका को लेकर पूरे प्रकरण की जांच अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक बाड़मेर को सौप दी है वही हैड कॉन्स्टेबल नेमसिंह फरार हो गया है। सोसियल मीडिया पर धमकी भरा नोट वायरल कर फरार हो गया है । पुलिस नेमसिंह की तलाश में थी अब घर लोट आया अब नेमसिंह ने निष्कस जाचं करे । वही बाड़मेर पुलिस अधीक्षक आंनद शर्मा द्वारा लोगो की मांग पर उचित कार्यवाई के आश्वासन के बाद धरने को समाप्त किया गया। परिजनों द्वारा शव उठा लिया गया चोहटन के डिप्टी नारायण सिह जाँच कर रहे .... .. .. .. दूसरी तरफ आमजन इंदिरानगर के वासियों ने पुलिस अधीक्षक कार्यालय वाहन चालक एम सिंह को टारगेट कर जो उन लोगों को कल सहयोग नहीं करते हैं उन पद से हटाने के उद्देश्य से पुलिस अवैध दबाव बनाया और सोशल मीडिया पर नेम सिंह के विरुद्ध अनर्गल टिप्पणियां की है नेम सिंह नेम सिंह के परिवार सदस्य को मुक्त चरण सिंह से कोई संबंध नहीं है सरवन सिंह जाने तक भी नहीं हम के हत्या करने का लेके जाना कतई मानने योग्य नहीं है जो सीसीटीवी फुटेज हैं उसमें किसी व्यक्ति की पहचान नह ऐसा नहीं है और पुलिस ने जल्दबाजी में अपनी छवि बचाने का विशेष एम सिंह के पुत्र वीर सिंह को भांजे राम जी को गिरफ्तार किया आज आज का रात में इंदिरा कॉलोनी के आमजन लोग पहुंचे और सही जांच कर जांच करने की मांग की पुलिस अधीक्षक से ज्ञापन में बताया की तो जांच अधिकारी है तुम किसी अन्य समाज के से अधिकारी को लगाकर सही जांच कर ए की मांग की है बाड़मेर से ठाकराराम मेघवाल