हैमिल्टन से वेलिंग्टन जाने के लिए टर्बो फ्लाइट से जाने को लेकर कोई नहीं था सहज

जागरूक टाइम्स 424 Feb 2, 2019

मुंबई (ईएमएस)। हैमिल्टन से वेलिंग्टन जाने के लिए टर्बो फ्लाइट से जाने कोई भी भारतीय खिलाड़ी तैयार नहीं था। इसके पीछे के कारणों पर नजर डाले तो पता चलेगा कि लगातार खेलने वाले खिलाड़ियों को कुछ कम्फर्ट और आराम के लिहाज से यह काफी जरूरी था कि वे हवाईयात्रा के बजाए बस यात्रा को प्राथमिकता दी गई।

हालांकि, भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) से मौजूदा कप्तान विराट कोहली और टीम प्रबंधन ने कहा है कि इंग्लैंड में वर्ल्ड कप के दौरान यात्रा करने के समय को बचाया जाए। इसके लिए बस बुक करने के बजाय ट्रेन से यात्रा करने का सुझाव दिया गया है। इंग्लैंड के हाल के दौरे के अनुभव को देखते हुए यह सुझाव दिया गया है।

न्यूजीलैंड में सीरीज के दौरान चौथे वनडे के वेन्यू से पांचवें वनडे के वेन्यू तक जाने के लिए करीब 4 घंटे की यात्रा करनी पड़ी। हैमिल्टन से वेलिंग्टन की इसी यात्रा को यदि फ्लाइट से किया जाता तो समय करीब 90 मिनट का लगता जिसके लिए टीम पहले हैमिल्टन से ऑकलैंड बस से गई और फिर फ्लाइट ली।

बीसीसीआई का कोई भी अधिकारी या टीम का कोई सदस्य इसके पीछे के कारण को नहीं बताना चाहता लेकिन खबरें हैं कि भारतीय दल का कोई अहम सदस्य दो शहरों के बीच टर्बो फ्लाइट से जाने को लेकर सहज नहीं था। खास बात यह है कि न्यूजीलैंड के सभी खिलाड़ियों ने अपने परिवार के साथ फ्लाइट से यह यात्रा की।

टीम से जुड़े एक सूत्र ने गोपनीयता की शर्त पर बताया कि न्यूजीलैंड में यात्रा में किसी तरह की परेशानी नहीं हुई और उन्हें भी निजी तौर पर इसकी जानकारी नहीं है कि किसी खिलाड़ी को इसमें किसी तरह की दिक्कत का सामना करना पड़ा। उन्होंने बताया कि बस से करीब 1 घंटा 45 मिनट यात्रा की जिसके बाद करीब आधा घंटा हवाई यात्रा की गई।

बाकी समय एयरपोर्ट लाउंज में बिताया गया। भारत और न्यू जीलैंड के बीच सीरीज का पांचवां वनडे वेलिंग्टन में रविवार को वेस्टपैक स्टेडियम में खेला जाएगा। विराट कोहली को सीरीज के अंतिम 2 वनडे से आराम दिया गया है और वह फिलहाल टीम के साथ नहीं हैं। उनकी जगह रोहित शर्मा टीम इंडिया की कमान संभाल रहे हैं।


Leave a comment