उदयपुर : जादू-टोने के चक्कर में आकर काट दी ऊंट की गर्दन, फिर उसे घर के बाहर दफनाया

जागरूक टाइम्स 289 Jun 10, 2021

उदयपुर. विश्वविख्यात पर्यटन स्थल लेकसिटी उदयपुर में जादू-टोने की भयावह तस्वीर सामने आई है. यहां जादू-टोने के चक्कर में राजकीय पशु ऊंट की गर्दन काटकर उसकी हत्या कर दी गई. सूरजपोल थाना इलाके में एक ऊंट का धड़ बिना गर्दन के पड़ा हुआ मिला. पुलिस ने इसकी गंभीरता से जांच करते हुए इस मामले में चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. सूरजपोल थाना अधिकारी डॉ. हनुमंत सिंह राजपुरोहित ने बताया कि आरोपियों ने टोने टोटके के चक्कर में आकर ऊंट की गर्दन काट दी. यह घटना 21 मई की है. ऊंट की गर्दन काट कर आरोपियों ने उसे अपने घर के ही बाहर दफना दिया. आरोपियों को बताया गया था कि ऊंट की गर्दन काटने से उन्हें व्यवसाय में हो रही परेशानी से निजात मिलेगी. पुलिस ने इस मामले में आरोपी राजेश अहीर, शोभालाल, चेतन और रघुवीर सिंह को गिरफ्तार किया है.

काफी दिनों से गाय थी बीमार
पुलिस ने बताया कि राजेश अहीर गोवर्धन विलास इलाके में डेयरी का संचालन करता है. उसके पास दो दर्जन से ज्यादा गायें हैं. डेयरी में रखी एक गाय पिछले कुछ दिनों से बीमार थी और वह दूध भी कम दे रही थी. ऐसे में चेतन नाम के युवक ने राजेश को टोना टोटके से समस्या दूर करने की बात बताई. इसके लिए चेतन ने राजेश को अपने पिता शोभालाल से मिलवाया.

टेकरी क्षेत्र में काटी ऊंट की गर्दन
शोभालाल के घर पर ही भैंरूजी का देवरा है. वहां उसने राजेश को समस्या समाधान के लिए ऊंट की गर्दन काट कर अपने घर के बाहर दफन करने का उपाय बताया. शोभालाल की बात मानकर राजेश ने अपने दोस्त रघुनाथ और चेतन के साथ मिलकर सूरजपोल थाना इलाके के टेकरी क्षेत्र में एक ऊंट की गर्दन काट दी. हाल ही में गर्दन कटे ऊंट का धड़ पुलिस को मिला था. उसके बाद पुलिस ने अपनी तफ्तीश शुरू की थी. पुलिस ने ऊंट की गर्दन को भी बरामद कर लिया है.

आरोपियों ने काटने से पहले ऊंट को गुड़ और चारा खिलाया
पुलिस ने बताया कि आरोपियों ने ऊंट को पहले गुड़ और चारा खिलाया. उसके बाद 21 मई को ऊंट की गर्दन काट दी और घर के बाहर दफन कर दिया. तफ्तीश के दौरान मुखबिर से मिली जानकारी और आसपास के सीसीटीवी फुटेज के आधार पर आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है.


Leave a comment