सिरोही : महिला सरपंच ने एक साल में बदली गांव की तस्वीर, लॉकडाउन में कि गरीब परिवारों की मदत

जागरूक टाइम्स 646 Mar 4, 2021
सिरोही। पिण्डवाड़ा पंचायत समिति क्षेत्र की ग्राम पंचायत नयासानवाड़ा की महज 1 सालों में तस्वीर ही बदल गई है। महिला सरपंच अलका रावल ने कमान संभालने के बाद से हर मोर्चे पर पूरी लगन व जि मेदारी से यह बदलाव किया है। सरपंच द्वारा पंचायत की निजी आये से समय-समय व धार्मिक त्याहोरों से पहले गांव में सफाई अ िायान के तहत सफाई हो रही है तो वही टूटी हुई नालियों का मर मत कार्य ाी किया गया है। इसके अलावा कच्चे घरों में रह रहे परिवारों के लिए पीएम आवास योजना के तहत पक्के भवनों का निर्माण भी काफी तेज गति से हो रहा है। विकास से हटकर भी सामाजिक सरोकार से जुड़ी कई पहल भी इस महिला सरपंच ने अपनी पंचायत में शुरू की हैं।

जिसमें महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए रोजगार से जोडऩे के लिए ग्रामीण महिलाओं के साथ में रहकर एक समूह बनाया बनाया है। जिसमें स ाी महिला महिने के हिसाब से समूह में पैसा इक्कठा करती है। जब किसी महिला को बड़ी रक की जरूरत होती है तब दिया जाता है। वही मेधावी बच्चों को स्वयं के पैसों से पुरस्कृत करना भी शामिल है। ग्राम पंचायत के पांचों गांवों में विकास कार्य से स्वच्छ व स्वस्थ्य वातावरण बनाने के अलावा सरपंच प्रीति लोगों का आर्थिक स्तर सुधारने की दिशा में भी कार्य कर रही हैं। स्वच्छता के प्रति जागरुकता वही पर्यावरण संरक्षण के लिए उन्होंने गांव की मु य सड़क मुक्ति धाम, सार्वजनिक स्थानों पर पौधों का रोपण करवाया है, जो कि सभी सुरक्षित हैं।

लॉकडाउन में कि गरीब परिवारों की मददत
कोरोना संक्रमण के दौरान सरपंच अलका रावल ने जरूरतमंदो को समय-समय पर राशन किट ाी बाटे वही राज्य सरकार व जिला प्रशासन द्वारा जारी गाइड लाइन के अनुसार पालना करने के लिए ग्रामीणों को जागरूक ाी किया। अन्य राज्य से आये घर आये प्रवासी मजदूरों के खाने पीने सहित पूरी व्यवस्था सरपंच द्वारा की गई।

सपनों को सच करने का साहस
सरपंच अलका रावल के पढ़ी लिखी महिला है उनके सरपंच पद पर रहकर गांव में विकास की तरह से करना है ओर किन-किन योजनाओं से जरूरतमंदों को ला ा दिलाना है। इन स ाी बातों की पूरी जानकारी है। सरपंच अलका रावल ने बताया ग्राम पंचायत क्षेत्र का एक मु य तालाब नेशनल फोरलेन हाइवें पर स्थित है। तालाब को मॉडल तालाब बनाने के लिए योजना बनाई जा रही है। वही ग्राम पंचायत सहित ाामाशाहों के सहयोग से मॉडल तालाब बनाने की तैयारी की जा रही है।

बबूल की कटाई कर तालाब के चारो तरफ पौध रोपण किया जायेगा। वही पंचायत की निजी आये को बढ़ाने के लिए तालाब का सौंदर्यकरण से तालाब की सूरत बदलने का प्रस्ताव ाी ले लिया गया है। तालाब के क्षेत्र के पास नए गार्डन भी बनाये जायेगें। पर्यटकों के लिए बैठने के लिए कई जगह नई कुर्सियां और बेंच का भी इंतजाम होगा। तालाब के किनारे 200 से ज्यादा लाइटिंग की गई है। इस मॉडल तालाब को संवारने की दिशा में लगातार पंचायत प्रयास कर रहा है। अब बोटिंग की सुविधा से जिलेवासियों को यहां एक अलग ही एहसास होगा। बोटिंग की सुविधा में शुल्क रहेगा और उसमें ाी टाइम लिमिट रहेगा। ताकि लगातार आने वाले लोगों को इसका लाभ मिल सके। पैडल बोट, नाव सहित सारी सुविधा पर्यटकों के लिए की जायेगी। वही सरपंच ने यह ाी बताया की तालाब के आस-पास में नास्ता लॉरी लगाने वाले को पंचायत अनुमति देगी।

जिससें पंचायत की निजी आये बढ़ेगी तो क्षेत्र में नये विकास कार्य करवाये जायेगें। वही ग्रामीणों को मॉडल तालाब पर रोजगार ाी उपलब्ध हो जायेगा। सरपंच ने बताया की गांव का मु य तालाब एक ऐसे क्षेत्र में स्थित है जहां का वातावरण इतना अच्छा बना हुआ है जब तालाब पर सौंदर्यकरण ओर मॉडल तालाब बनाने के बाद में फिल्म शूटिंग के लिए एक मु य केन्द्र बन जायेगा। राजस्थानी गीतों की शूटिंग के साथ में पर्यटकों के लिए एक अच्छी जगह होगी।

Leave a comment