गाइडलाइन्स का उल्लंघन करने पर तीन मैरिज हॉल सील

जागरूक टाइम्स 309 May 3, 2021

जोधपुर (ईएमएस)। कोरोना गाइड लाइन के नियमों के उल्लंघन के मामले में सख्ती बरतते हुए जोधपुर नगर प्रशासन की ओर बनाई गई ज्वाइंट एनफोर्समेंट टीम ने शहर के तीन मैरेज हॉल को सील कर दिया है। डीसीपी ईस्ट धर्मेंद्र कुमार यादव ने बताया जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन और नगर निगम इस दिशा में लगातार प्रयास कर रहा है। शादी विवाह समारोह में निर्धारित गाइडलाइन का पालन नहीं करने पर एसीपी मंडोर ने दो मैरिज पैलेस पर और जेट उत्तर की टीम ने एक मैरिज पैलेस पर 25-25 हजार रुपए का जुर्माना लगाया। नगर निगम आयुक्त उत्तर रोहिताश्व तोमर ने बताया कि शहर में आयोजित हो रहे शादी समारोह का टीम और पुलिस प्रशासन ने निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान अमर नगर माता का थान स्थित महर्षि दधिचि आश्रम छात्रावास, मंडोर स्थित गीता शंकर मैरिज पैलेस और नयापुरा मंडोर पेसिफिक गार्डन में निर्धारित गाइडलाइन का पालन नहीं हो रहा था। इन तीनों पर 25-25 हजार रुपए का जुर्माना लगाने के बाद अगले दिन एसीपी शिव नारायण चौधरी और उपायुक्त शैलेंद्र सिंह के नेतृत्व में तीनों मैरिज पैलेस को सील करने की कार्रवाई की गई। आपको बता दें कि कोरोना के बढ़ते संक्रमण को रोकने के मद्देनजर जारी की गई नई गाइडलाइन में समारोह में शामिल होनेवाले मेहमानों की संख्या में कटौती की गई है।

पहले विवाह समारोह में 50 लोगों के शिरकत की स्वीकृति थी, जिसे घटाकर महज 31 कर दिया गया है। वहीं आयोजनकर्ता को इन 31 मेहमानों की सूची भी आयोजन से पहले देनी होगी। इसके लिए उन्हें मेल पर आने वाले मेहमानों की लिस्ट भेजनी होगी। वैसे इन 31 लोगों में बैंड वालों को शामिल नहीं किया जाएगा। पूरा विवाह आयोजन भी तीन घंटे की समय सीमा में ही निपटाने होंगे। इसके अलावा अगर लिस्ट से ज्यादा लोग पाए गये, तो उन मेहमानों पर जुर्माना लगाया जाएगा और सजा का भी प्रावधान है। वहीं ज्यादा मेहमान बुलाने पर आयोजनकर्ता पर एक लाख का जुर्माना लगाया जाएगा। साथ ही मैरिज हॉल या आयोजन स्थल के मालिक पर भी एक लाख जुर्माने का प्रावधान रखा गया है। बता दें ‎कि राजस्थान में 1 मई से नई कोरोना गाइडलाइन जारी हुई है। इसके तहत विवाह समारोहों में मेहमानों की संख्या 50 से घटाकर 31 कर दी गई है, साथ ही प्रशासन को इन 31 मेहमानों की सूचना भी पहले ही देनी होगी। इनके अलावा जो लोग भी शादी में शामिल होंगे, उन पर महामारी एक्ट के तहत कार्रवाई की जाएगी और जुर्माना वसूला जाएगा।

Leave a comment