जोधपुर में दो और संक्रमित महिला मरीज मिली

जागरूक टाइम्स 326 Apr 3, 2020

जागरूक टाइम्स संवाददाता

जोधपुर। शहर में गुरुवार को कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या दहाई अंक में पहुंच गई। आज जो महिलाओं की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई। इनमें से एक 57 वर्षीय महिला की कोई ट्रेवल हिस्ट्री नहीं है जबकि दूसरी 26 वर्षीय महिला अपनी बेटी का इलाज कराने अहमदाबाद गई थी। इस तरह शहर में अब तक 442 जनों की जांच की जा चुकी है इसमें से 10 कोरोना पॉजिटिव पाए गए है। इसके अलावा ईरान से एयर लिफ्ट कर लाए गए 1036 भारतीय नागरिकों में से 18 करोना पॉजिटिव पाए गए है। इनमें से 9-9 जैसलमेर व जोधपुर में सेना के वेलनेस सेंटर में रह रहे थे।

आज सुबह की जांच रिपोर्ट में शहर के बासनी क्षेत्र की केके कॉलोनी की 57 वर्षीय महिला पॉजिटिव पाई गई। इसकी ट्रेवल हिस्ट्री तलाशी जा रही है। उसके पॉजिटिव मिलले ही प्रशासनिक अमला उसके निवास स्थान वाले क्षेत्र में पहुंचा और क्षेत्र को सील कर व्यापक स्तर पर स्क्रीनिंग अभियान शुरू किया। साथ ही उसके परिजनों से यह जानने का प्रयास किया जा रहा है कि वह गत दिनों में कहां-कहां गई और कितने लोगों से मिली। एहतियात के तौर पर उसके परिजनों को भी एमडीएम अस्पताल ले जाया गया है। यह महिला कई दिन से अपने मोहल्ले से बाहर नहीं निकली है इसके बावजूद उसके संक्रमित होने से डॉक्टर आश्चर्य में है। ऐसे में पूरे क्षेत्र को सील कर व्यापक पैमाने पर स्क्रीनिंग अभियान शुरू किया गया है।

> शाम में मिली दूसरी महिला
प्रशासन की तरफ से शाम पांच बजे जारी जांच रिपोर्ट में नागौरी गेट क्षेत्र की एक 26 वर्षीय महिला कोरोना संक्रमित पाई गई। यह महिला कुछ दिन पूर्व अपनी बेटी का इलाज कराने अहमदाबाद गई थी। इस महिला ने रेल के जनरल कोच में यात्रा की थी। ऐसे में प्रशासन के सामने इसके साथ यात्रा करने वाले लोगों को तलाश करना भारी चुनौती बन गया है।

> दरवाजा तोड़कर निकाला बाहर
  इस दौरान जानकारी मिली कि संक्रमित पाई गई महिला के सामने के मकान में एक महिला कुछ दिन पूर्व भीलवाड़ा से अपनी बहन-बहनोई से मिलने आई हुई है। इस पर चिकित्सा विभाग की टीम वहां पहुंची तो परिजनों ने दरवाजा खोलने से इनकार कर दिया। काफी मशक्कत के बावजूद दरवाजा नहीं खोलने पर पुलिस बुलानी पड़ी। पुलिस ने दरवाजा तोड़ कर अंदर प्रवेश किया, लेकिन भीलवाड़ा से आई महिला ने एक कमरे में स्वयं को बंद कर दिया। बाद में बड़ी मुश्किल से उसे बाहर निकलने पर राजी किया। इसके बाद उक्त महिला व उसे बहन-बहनोई को एम्बुलेंस से जांच के लिए एमडीएम अस्पताल ले जाया गया। ऐसा माना जा रहा है कि भीलवाड़ा से आई महिला कोरोना संक्रमित है और उसके संपर्क में आने की वजह से सामने के मकान में रहने वाली महिला भी संक्रमित हो गई। प्रदेश में कोरोना को लेकर भीलवाड़ा हॉट स्पॉट बना हुआ है।

Leave a comment