जोधपुर में कोरोना संक्रमितों का शतक पूरा

जागरूक टाइम्स 341 Apr 16, 2020

जोधपुर। सूर्यनगरी में बुधवार सवेरे कोरोना संक्रमित मरीजों के अनचाहे शतक को पूरा कर लिया। आज सात नए मरीजों की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आने के साथ ही शहर में कोरोना संक्रमितों की संख्या 102 तक जा पहुंची। इससे पहले शहर में मंगलवार रात एक साथ 16 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए थे। आज सुबह जारी जांच रिपोर्ट में 7 जने पॉजिटिव पाए गए हैं। इनमें से भीतरी शहर में मेड़ती गेट के बाहर के चार, चौपासनी हाउसिंग बोर्ड क्षेत्र के दो व एक नया तालाब क्षेत्र का है। इससे पहले जोधपुर शहर में सोमवार को एक साथ तीस कोरोना संक्रमित मिलने के बाद मंगलवार सवेरे राहत भरी रही थी और जांच सैंपलों में से एक भी नया संक्रमित नहीं मिला, लेकिन शाम को आई जांच रिपोर्ट में एक साथ 16 नए मरीज सामने आ गए थे।

वहीं सोमवार को पॉजिटिव पाए गए पुलिस कांस्टेबल की पत्नी भी कोरोना संक्रमित पाई गई थी। शहर में अब तक मिले कोरोना संक्रमितों में से करीब अस्सी लोग भीतरी शहर के हैं। इन क्षेत्रों में महा कफ्र्यू लागू कर व्यापक पैमाने पर घर-घर लोगों की जांच का विशेष अभियान चलाकर सैंपल लिए जा रहे हैं। यही कारण है कि इन क्षेत्रों से बड़ी संख्या में कोरोना पॉजिटिव पाए गए हंै। लगातार बढ़ते कोरोना पॉजिटिव मरीजों के चलते एमडीएमएच की कोरोना विंग की चारों मंजिलों पर संक्रमितों को भर्ती रखा जा रहा है। ऐसे में यहां चल रही ओपीडी को अब जनाना विंग में शिफ्ट कर दिया गया है। जनाना विंग में सभी संदिग्धों को भी रखा जा रहा है। फिर उनमें से किसी के पॉजिटिव आने के बाद उसे कोरोना विंग में भर्ती किया जाता है।

सभी आयु वर्ग के संक्रमित
कोरोना की चपेट में हर आयु वर्ग के लोग आए हैं। इनमें 14 माह की बच्ची से लेकर 90 साल का बुजुर्ग भी शामिल हैं। शहर में 20 से 29 साल आयु वर्ग के लोग इसकी चपेट में सबसे अधिक आए हैं। इस वर्ग में करीब डेढ़ दर्ज महिलाएं और एक दर्जन से अधिक पुरुषों का एमडीएमएच में उपचार चल रहा है। अध्ययन में सामने आया कि 60 साल से अधिक की आधा दर्जन महिलाएं हैं तो इसमें पुरुष भी हैं। सबसे कम 50-59 साल आयु वर्ग की केवल महिलाएं और पुरुष हैं।


Leave a comment