जागरूक टीवी में न्यूज फ्लेश होने के बाद हुई हरकत, बारिश में चने से भरी बोरियां भीगने का मामला

जागरूक टाइम्स 712 Jun 27, 2018

जालोर। जालोर कृषि मण्डी में चने से भरी सैकड़ों बोरियों के बारिश में भीगने की खबर जागरूक टीवी में फ्लेश होने के बाद प्रशासन में हडकंप मच गया। हाथों हाथ लेबर मंगवाकर भीगी हुई बोरियों को ट्रकों में भरा जा रहा है। चने से भरी ये बोरियां मार्केटिंग सोसायटियों द्वारा किसानों से खरीदी गई है। इस बारे में कृषि मण्डी के प्रभारी से बात की तो उन्होंने बताया कि आहोर कृषि मंडी जालोर में देर रात हुई बारिश से अनाज की बोरियां भीग गई। त्रिपाल लगे नहीं होने से चने की बोरिया भीग गई है।

हालांकि इसमें कृषि मण्डी प्रशासन से अधिक क्रय विक्रय सोसायटी समिति अधिक जिम्मेदार है। चने की फसल समर्थन मूल्य पर खरीदी गई है। अब किसानों को अनाज के सडऩे की चिंता सता रही है। अनाज की बोरिया पानी से लबालब भर गई है। सबसे चौकाने वाली बात यह सामने आई है कि आहोर में प्लेटफार्म नहीं होने के कारण कृषि मण्डी में चने की फसल तुलवाई गई है। बारिश का मौसम होने के बावजूद भी चने की बोरियों की सुरक्षा के लिए कोई कदम नहीं उठाए गए हैं।

गौरतलब है कि जालोर की कृषि मण्डी में देर रात हुई चने से भरी बोरियां भीग गई। इधर आसमान में बादल छाए रहने से अनाज के सूखने की जल्द से जल्द कोई संभावना नजर नही आ रही है। अक्सर बारिश के दौरान यह लापरवाही पूर्ण नजारा देखने को मिलता है। साल भर की मेहनत अनदेखी से खराब होती नजर आ रही है।

हमारा इसमें कोई लेना देना नहीं है...

कृषि मण्डी में चने से भरी बोरिया क्रय विक्रय सोसायटी समिति की ओर से रखी गई है। हमारी ओर से कृषि मण्डी का परिसर मुहैया करवाया गया है। फसल की बोरियों की बारिश से सुरक्षा के संबंधित समिति की जिम्मेदारी बनती है। अभी फसल को भरवाया जा रहा है। - भूराराम मीणा, संचालक, कृषि मण्डी जालोर

Leave a comment