कोविड मरिजो के लिये सांचौर में दो सेंटर अधिकृत

जागरूक टाइम्स 272 Apr 23, 2021

सांचौर : कोरोना संक्रमण को लेकर क्षेत्र मे प्रतिदिन मरिजो की की सं या बढ रही है, वहीं संक्रमित गंभीर मरिजो को जालोर मु यालय पर स्थित कोविड सेन्टर भेजा रहा है, वहं दुसरी ओर सांचौर में जिला प्रशासन द्वारा दो निजी अस्पताल को कोविड सेन्टर के लिये अधिकृत किया है। जिसमें बी.लाल हॉस्पीटल व सांचौर हॉस्पीटल को काविड सेन्टर के लिये अधिकृत किया गया है। जिसमें बी.लाल हॉस्पीटल में ५० बेड तक की व्यवस्था की गई है, वहीं साचौर हॉस्पीटल में ३० बैड की व्यवस्था की है। ऐसे में वेटिलेटर सहित संपूर्ण चिकित्सा सुविधाओ के लिये उक्त अस्पाताल को व्यवस्था करने के निर्देश जारी किये गये है। वहीं दुसरी ओर उपखंड मु यालय पर स्थित राजकीय सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में जांच के लिये आने वाले संदिग्ध मरिजो को कोरोना कीट उपलब्ध करवाये जा रहे है।

वहीं स्थानीय चिकित्सा प्रशासन के सामने कोरोना संक्रमित मरिजो को ठीक करने की जि ोदारी दोहरी बढ गई है, क्षेत्र में बाहर से आने वाले प्रवासीयों की कोरोना रिपोर्ट के साथ - साथ पड़ोसी जिले बाड़मेर से भी गंभीर मरीज ईलाज के लिये सांचौर आ रहे है। ऐसे में क्षेत्र में मरिजो की बढती सं या चिकित्सा विभाग के लिये भी चुनौति बनी हुई है। हांलाकि सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में कोरोना मरिजो के लिये ईलाज के लिये फिल्हाल कोई सुविधा उपलब्ध नहीं होने से मरिजो के पास जालोर मु यालय स्थित बनाये कोविड सेन्टर पर जाना मजबूरी बन गया है।

बी.लाल हॉस्पीटल का ऑक्सीजन प्लांट मरिजो के लिये बन रहा है वरदान - सांचौर के कमालपुरा स्थित बी.लाल हॉस्पीटल में बनाया गया ऑक्सीजन प्लांट कोरोना संक्रमित मरिजो के लिय वरदान बन रहा है, एक तरफ सांचौर ही बाड़मेर व जिला मु यालय पर ऑक्सीजन के सिलेंडर बाहर से मंगवाये जाते है, वहीं दुसरी ओर बीलाल हॉस्पीटल में स्वयं का स्व उत्पादित प्लांट होने से आपातकाल में भी ऑक्सीजन खत्म नहीं होने से मरिजो की जान के लिये संजीवनी साबित हो रही है। ऐसे में जिले में एक मात्र अस्पताल बन गया है जो ऑक्सीजन के नाम पर आत्मनिर्भर चिकित्सालय बना हुआ है।

राज्य कर्मचारियों के लिये नि:शुल्क, वहीं चिरजीवी के तहत मरिजो का होता है नि:शुल्क ईलाज - स्थानीय बीलाल हॉस्पीटल को राज्य सरकार ने सरकारी कर्मचारियों व उनके परिजनो के लिये ईलाज कबे लिये अधिकृत किया गया है, जिसमें गंभीर बीमारी के बावजूद इस श्रेणी के मरिजो का ईलाज नि:शुल्क किया जाता है, वहीं राज्य सरकार की चिरजीवी योजना के तहत भी गंभीर बीमारी के मरिजो का नि:शुल्क ईलाज किया जा रहा है। ऐसे में मरिजो को कोरोना महामारी के दौरान बड़ फायदा मिल रहा है।

इनका कहना है -
जिला प्रशासन द्वारा बीलाल हॉस्पीटल व सांचौर हॉस्पीटल को कोविड सेंटर के लिये अधिकृत किया गया है, बीलाल हॉस्पीटल में स्वयं का ऑक्सीजन प्लांट है, ऐसे में आपातकाल में भी आसानी से उपयोग किया जा सकता है, हालांकि आपातकाल स्थिति में प्लंाट में कोई तकनिकी खराबी नहीं आये इसके लिये जिला कलेक्टर को पत्र लिखकर अतिरिक्त ऑक्सीजन के सिलेंडर उपलब्ध करवाने की मांग की गई है। ताकि कोई परेशानी नहीं हो । जिसके लिये बीलाल हॉस्पीटल में ५० बैड और सांचौर हॉस्पीटल में ३० बैड की व्यवस्था करवा रखी है। डॉ. मनोज बिश्नोई, एमडी फिजिशियन व चिकित्सा प्रभारी सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र सांचौर ।


Leave a comment