आहोर : सरकारी स्कूल को बनाया चोर गिरोह ने अड्डा, आखिर लोगों ने ऐसे पकड़ा रंगे हाथों…

जागरूक टाइम्स 1381 Jul 14, 2018

- बड़े चोर गिरोह का राजफाश होने की संभावना

जालोर @ जागरूक टाइम्स
जिले के आहोर कस्बे में महीनों से चले आ रहे चोरों के आतंक पर आखिरकार मोहल्ले वासियों की सूझबूझ से विराम लग गया, लेकिन चोरों के वारदात करने के तरीके को जानकर हर कोई हैरान रह गया। चोरों ने रात को ठहरने के लिए एक सरकारी स्कूल को ही अपना अड्डा बना रखा था। इधर, लगातार हो रही चोरी की वारदातों और पुलिस को सुराग हाथ नहीं लगने से आजीज आ चुके मोहल्ले वासियों ने खुद ही एक ऐसा जाल बुना कि चोर उसमें फंस कर रह गए। हालांकि तीन चोर चकमा देकर भाग निकले, लेकिन एक चोर को लोगों ने धरदबोचा और पुलिस को सौंप दिया। बाद में पुलिस ने दो अन्य आरोपियों को भी पकड़ लिया। फिलहाल, पुलिस चोर गिरोह के राजफाश के लिए आरोपियों से गहनता से पूछताछ कर रही है।

दरअसल, आहोर के माधोपुरा रोड से लेकर माधोपुरा गांव तक बीते तीने महीने में आधा दर्जन से ज्यादा चोरी की वारदातें हुई। चोर अधिकांश ऐसे मकानों को निशाना बनाते थे, जहां परिवार के लोग गर्मी के कारण घर के बाहर या छत पर सोते थे। चोर यहां से मोबाइल, पेंट-शर्ट में रखे रुपए एवं अन्य कीमती सामान चुराते थे। हालांकि इस संबंध में कुछ लोग पुलिस तक पहुंचे तो कइयों ने छोटा नुकसान समझ पुलिस तक जाना मुनासिब नहीं समझा। इधर, कार्रवाई नहीं होने से बैखौफ हुए चोरों ने वारदातें भी बढ़ा दी। इस बीच लोगों ने चोरों को पकड़ने की कोशिश भी की, लेकिन यह लोग अचानक गायब हो जाते थे। दरअसल, चोरों ने माधोपुरा में स्थित एक स्कूल (पानीबाई ओटमल राजकीय विद्यालय) को अपना अड्डा बना रखा था। जहां वो रात भर छुपे रहते थे। 

ऐसे आए पकड़ में

इस बीच, मोहल्ले वासियों ने बैठक कर रातभर जागकर निगरानी की योजना बनाई। शुक्रवार सुबह करीब साढ़े पांच बजे चार चोर सुनारों का बेरा मोहल्ले में इकबाल खान के घर के आगे पहुंचे और घर के बाहर लगा बल्ब निकालने लगे। ताकि चोरी की वारदात को अंजाम दे सके। इस दौरान समीप के मकान से शेरू खान ने अंजान लोगों को देख पूछताछ की तो उन्होंने खुद को टेंट हाऊस का कर्मचारी बताया। इधर, आवाज सुन समीप के गरीब नवाज मोहल्ले के युवा मौके पर पहुंच गए और चार जनों को पकड़ लिया। इस दौरान ये लोग बातों में उलझाकर भाग निकले। लेकिन युवकों ने पीछाकर एक जने को पकड़ लिया। इस दौरान लोगों ने इनकी जमकर धुनाई कर दी। बाद में उसे पुलिस को सौंप दिया। पुलिस ने तत्काल कार्रवाई करते हुए उसकी निशानदेही पर दो अन्य को भी पकड़ लिया। फिलहाल, पुलिस आरोपियों से गहनता से पूछताछ कर रही है ताकि पूरे गिरोह का राजफाश किया जा सके। उम्मीद जताई जा रही है कि पूछताछ में बड़ी तादाद में चोरी की वारदातों का खुलासा हो सकता है।




Leave a comment