सांचोर : 90 फिट गहरे बोरवेल से गिरा मासूम अनिल लौटा घर

जागरूक टाइम्स 345 May 9, 2021

साँचोर : क्षेत्र के लाछड़ी में दो दिन पूर्व ९० फिट गहरे बोरवेल में फंसे अनिल देवासी को जिन्दा बाहर निकालने के बाद दो दिन से अस्पातल में ईलाज लेने के बाद चिकित्सक ने शनिवार को छुटटी देने से वह अपन मां के साथ घर पहुंचा। इस दौरान परिजनो में खुशी की लहर देखते ही बन रही थी। इस दौरान परिजनो ने भगवान का शुक्रिया अदा किया, वहीं अनिल के माता- पिता के ख्ुाशी का कोई ठिकाना नहीं था, की आखिर भगवान ने उनकी आवाज को सुन लिया, वहीं बेटे अनिल को मौत के मुंह से बचा लिया। इस दौरान अस्पताल के चिकित्सक के अनुसार मासूमा दो दिन के ईलाज के बाद वह अब पूर्ण रूप से स्वस्थ है।

... हमने उम्मीद नहीं छोड़ी बेटा अनिल लौटकर वापिस आयेगा - १६ घंटे बोरवेल में ९० फिट गढे में अटके रहे अनिल के जिन्दा वापिस आने की उम्मीदें अनिल के परिजनो को धेर्य बंधा रही थी, जहां एक और रेस्क्यू और प्रशासन की टीम उसेे बचाने के साथ- साथ चले अभियान के साथ गुजर रहे वक्त से सांसे फूल रही थी, वहीं दुसरी ओर परिवार के परजिनो का आत्मविश्वास देखने लायक था, मासूम अनिल के पिता की माने तो उनका कहना था कि मेरा बेटा जल्द ही मेरे आंगन में वापिस आकर खेलेगा। हालंाकि इस अभियान में सभी लोग मासूम के जिन्दा आने की दुआऐं कर रहे थे ।

इनका कहना है -
मासूम दो दिन से मेहता अस्पताल के शिशु वार्ड में भर्ती था, अब पूर्ण स्वस्थ होने के बाद शनिवार दोपहर को छुटटी दे दी गई है, मासूम का ईलाज पूर्ण रूप से नि:शुल्क किया गया है। वहीं बच्चे के परिजन भी अब पूर्ण रूप से संतुष्ट है। डॉ. उत्तम पुरोहित, शिशु एवं बाल रोग विशेषज्ञ मेहता चिकित्सालय सांचौर

मासूम अनिल के घर आने की बेहद खुशी है, आज मेरे आंगन की रोशनी लौट आई है, भगवान लाख-लाख शुक्रिया, माधाराम सुथार ने मेरे नन्हे अनिल को नई जिन्दगी दी, ऐसे लोगो का उच्च स्तर पर सम्मानित करके सरकार को प्रोत्साहन देना चाहिये। नगाराम मासूम के पिता ।

मासूम अनिल पूर्ण रूप से स्वच्छ होकर घर लौट आया है, परिजन भी खुश है, ग्राम पंचायत की ओर से प्रशासन व एनडीआरफ की टीम व विशेष तौर पर देशी जुगाड़ से माधाराम सुथार द्वारा रेस्क्यू करके मासूम की जान बचाने पर आभार जताया है। दिनेशसिंह राजपुरोहित, सरपंच ग्राम पंचायत हाड़ेतर ।


Leave a comment