रानीवाड़ा : सांसद पटेल ने की कृषि मंत्री कटारिया से मुलाकात

जागरूक टाइम्स 296 Dec 15, 2020
कृषि आदान-अनुदान का बजट आवंटन एवं बिमा क्लेम दिलवाने की रखी मांग

रानीवाड़ा। जालोर-सिरोही क्षेत्रीय सांसद देवजी पटेल ने सोमवार को जयपुर में कृषि मंत्री लालचंद कटारिया से मुलाकात कर जालोर-सिरोही में किसानों की विभिन्न समस्याओं के बारे में अवगत करवाया। सांसद पटेल ने मुलाकात के दौरान कृषि मंत्री को बताया की सिरोही जिले में फसल खराबे से प्रभावित किसानों में से भुगतान से शेष रहे कास्तकारो को कृषि आदान-अनुदान भुगतान हेतु जिला प्रशासन द्वारा राशि 295.95 लाख रूपये की माँग अनुसार शीघ्र बजट आवंटन करवाने एवं जालोर जिले में रबी-2019 के दौरान करीब पच्चीस हजार अऋणी (नॉन लोनिंग) किसानों द्वारा प्रधानमंत्री फसल बिमा योजना अंतर्गत फसल प्रीमियम का ऑनलाइन जमा करवाया था, लेकिन जिले में अधिकृत बिमा कंपनी द्वारा बुवाई प्रणाम पत्र रिजेक्ट कर किसानों को प्रधानमंत्री फसल बिमा योजना अंतर्गत बिमा क्लेम से वंचित रखा गया, जबकि उस दौरान क्षेत्र में टिड्डी दल से किसानों के फसलों को बहुत नुकसान पहुँचाया था।

जिसके सम्बन्ध में जिला प्रशासन ने पच्चीस हजार किसानों में से लगभग 17500 अऋणी (नॉन लोनिंग) किसानों की रिपोर्ट प्रेषित की है। इन टिड्डी दल से प्रभावित किसानों को प्रधानमंत्री फसल बिमा योजना अंतर्गत फसलों को हुए नुकसान का लगभग 1500 लाख रूपये बिमा क्लेम दिलवाने की मांग रखी। जिस पर कृषि मंत्री लालचंद कटारिया ने सांसद पटेल को बताया इस संबंध में शीघ्र कार्यवाही कर सिरोही जिले के फसल खराबे से प्रभावित किसानों में से भुगतान से शेष रहे कास्तकारो को कृषि आदान-अनुदान भुगतान हेतु राशि 295.95 लाख रूपये का बजट आवंटन किया जायेगा। मंत्री कटारिया ने जालोर जिले में रबी-2019 के दौरान टिड्डी से प्रभावित करीब 17500 अऋणी किसानों को लगभग 1500 लाख रूपये बिमा क्लेम राशि शीघ्र भुगतान करवाने का आश्वासन दिया।

नर्मदा नहर से सिंचाई हेतु नहरों में पर्याप्त पानी की मांग - सांसद देवजी पटेल ने सोमवार को जयपुर में नवीन महाजन सहित जल संसाधन विभाग के अधिकारियों से मुलाकात कर नर्मदा नहर में सिंचाई हेतु पानी उपलब्ध करवाने के संबंध में चर्चा की। सांसद पटेल ने बताया कि पूर्व में गुजरात राज्य से राजस्थान को मांग अनुसार पानी न मिलने एवं किसान आंदोलन को देखते हुए केन्द्रीय जल शक्ति मंत्री गजेन्द्रसिंह शेखावत के निर्देशानुसार नर्मदा कंट्रोल ऑथोरिटी उच्चाधिकारियों सहित गुजरात व राजस्थान के विभागीय अधिकारियों द्वारा राजस्थान-गुजरात हेड पर मौका निरीक्षण किया गया था।

जिससे राजस्थान में पानी की आवक में वृद्धि हुई थी जबकि पानी होते हुए भी किसानों को निर्धारित समय पर उपलब्ध नहीं करवाया जा रहा हैं तथा किसानों को आंदोलन करना पड़ रहा हैं, इस पर नवीन महाजन ने सांसद पटेल को आश्वस्त करते हुए बताया कि गुजरात से नर्मदा मुख्य केनाल में पर्याप्त पानी की नियमित उपलब्धता बनी रहेगी तथा शीघ्र ही सभी किसानों को फसल सिंचाई हेतु पर्याप्त पानी दिया जायेगा।

Leave a comment