जालोर : पानी की लाइन पर सीवरेज की लाइन बिछाई, लीकेज आया तो तोड़ दी सीसी सड़क

जागरूक टाइम्स 249 Jan 21, 2021

- डांगरा गांव में बदहाल सड़कें

- ग्राम पंचायत नहीं दे रही ध्यान

- सड़के तोड़ने के बाद नहीं हो रही मरम्मत

जालोर। जिले की सायला पंचायत समिति की डांगरा ग्राम पंचायत में पहले तो नर्मदा परियोजना को लेकर गांव के मुख्य चौराहे व गली में पाइप लाइन बिछाई गई। बाद में उसी पानी की पाइप लाइन पर पंचायत की ओर से सीवरेज लाइन बिछा दी गई। बाद में नर्मदा पाइपलाइन की टेस्टिंग के दौरान लीकेज का पता चला तो सीसी सड़क को ही पूरा उखाड़ दिया। गांव के अधिकांश चौराहे और गलियां बदहाल हो गई है। इसका मुख्य कारण पिछले कई महीनों से गांव में नर्मदा पेयजल परियोजना के तहत पाइप लाइन बिछाने का कार्य चल रहा है। हालांकि गांव के लिए नर्मदा का नीर एक खुशियों भरी सौगात है, लेकिन संबंधित ठेकेदार द्वारा पाइप लाइन डालने के बाद उन सड़कों की मरम्मत नहीं की जा रही है। जिससे दुपहिया वाहन तक भी गलियों में ले जाने में ग्रामीणों को परेशानी हो रही है।

इन सब में भी सबसे चौंकाने वाली बात यह है कि ग्राम पंचायत के सरपंच और संबंधित ग्राम सेवक द्वारा कोई निगरानी नहीं रखी जा रही है और इसी के कारण ग्रामीणों में ग्राम पंचायत प्रशासन के प्रति भारी नाराजगी है। यहां तक कि ग्राम पंचायत के उपसरपंच नारायणसिंह निंबलाना भी सरपंच समेत अन्य जिम्मेदार कार्मिकों को लेकर नाराजगी जता रहे हैं।

सीवरेज पाइप लाइन बिछाने में लापरवाही
गांव में बिछी नर्मदा की पाइप लाइन के बिल्कुल पास में ही सीवरेज की पाइप लाइन बिछाने के कारण भी बड़ी समस्या का सामना करना पड़ रहा है। पानी की पाइप लाइन में लीकेज होने की स्थिति में नर्मदा परियोजना के संबंधित ठेकेदारों को मोहल्लों में बने गौरव पथ को पूरा उखाड़ना पड़ा। ऐसे में लाखों रुपए के बजट से बने गौरव पथ पंचायत की लापरवाही और अनदेखी के कारण बदहाली के भेंट चढ़ चुके हैं।

गांव की गलियों में फैला गन्दा पानी
गौरतलब है कि सायला पंचायत समिति के डांगरा गांव में सड़कों की स्थिति जर्जर है। वही नालियों की भी उपयुक्त व्यवस्था नहीं होने से घरों से गंदा पानी गलियों में बीच में ही भर जाता है। इस संबंध में ग्रामीणों ने बताया कि कई बार सरपंच और ग्राम सेवक को अवगत करवा दिया गया है लेकिन समस्या से निजात नहीं मिल रहा है।

इनका कहना है...
डांगरा गांव में सड़कों की स्थिति बहुत ही दयनीय है । इसकी सबसे बड़ी जिम्मेदारी ग्राम पंचायत के सरपंच व ग्राम सेवक की है। उप सरपंच समेत कई वार्ड पंच की लगातार अनदेखी भी की जा रही है। 2 दिन पहले सायला पंचायत समिति में बैठक के दौरान भी डांगरा ग्राम पंचायत के सरपंच उपस्थित नहीं हुए। ऐसे में विकास कार्यों को लेकर होने वाली चर्चा में पंचायत वंचित रही। उपसरपंच होने के नाते मुझे भी काफी दुख होता है, लेकिन सरपंच और कुछ लोगों की मिलीभगत के कारण गांव की स्थिति दिन-ब-दिन बद से बदतर होती जा रही है।

- नारायण सिंह उपसरपंच डांगरा ग्राम पंचायत
गांव में नर्मदा के पानी को लेकर पिछले 1 साल से काम हो रहा है, लेकिन अभी तक घरों में कनेक्शन नहीं दिए गए हैं। काम की गुणवत्ता सही नहीं होने के कारण पाइपलाइन जांच के दौरान बार-बार लीकेज हो रहा है। जिसके कारण अभी तक गांव में लोगों को नर्मदा का नीर नहीं मिल पाया है। हमारी तो बुढ़ापे में स्थिति खराब हो रही है। नर्मदा का पानी देखने के लिए सालों से इंतजार अभी तक खत्म नहीं हो रहा है।

- लहरी देवी, ग्रामीण
गांव में विकास के नाम पर कोई काम नहीं हो रहा है। सरपंच और ग्राम सेवक बिल्कुल सतर्क नहीं है। ऐसे में गांव की सुध नहीं लेने से ग्रामीणों में नाराजगी है। स्कूल के आगे नवीन बने सीसी रोड पर मिट्टी हटाई नहीं जा रही है। ऐसा लग रहा है कि लाखों रुपए खर्च करने के बावजूद भी यह रोड नहीं कोई ढाणी में कच्चा मार्ग है। - गौतम सोनी, ग्रामीण डांगरा

Leave a comment