बागोड़ा : झोलाछाप कर रहा मरीजों के स्वास्थ्य से खिलवाड़

जागरूक टाइम्स 225 May 4, 2021

बागोड़ा। राउता गांव में चिकित्सा एंव स्वास्थ्य विभाग की उदासीनता व जिला कलक्टर के झोलाछापों पर कार्रवाई करने के निर्देश के बावजूद यहा झोलाछाप मेडिकल स्टोर की आड़ में मरीजों के स्वास्थ्य से खिलवाड़ कर चांदी कुटने में लगा है। उपखंड मुख्यालय से महज 10 किमी दूर राउता गांव में एक झोलाछाप खुद को एमबीबीएस बताकर मरीजों का इलाज कर भारी किमत वसूल कर रहा है। हाल ही कोरोना महामारी को लेकर जिला कलक्टर नृमता वृष्णि ने एक आदेश जारी कर निजी क्लीनिकों में कोविड-19 की जांच नही होने से रोगी की हालत बिगडऩे पर अन्यत्र ले जाने का कह कर परिजनों को परेशानी में डालते हैं और उसके बाद सरकारी अस्पताल में भर्ती होने तक मरीज की हालत खस्ता हो चुकी होती है जिसको लेकर कलेक्टर नृमता वृष्णि ने आदेश जारी कर ऐसे झोलाछाप व बिना डिग्री के अवैध संचालित क्लिनीकों को सीज करने के लिए कहा गया है मगर किसी झोलाछाप के राजनैतिक रसुकदार या एप्रोच के चलते इन नीम हकीमों पर कोई कार्रवाई नहीं हो रही है जिसका उदाहरण राउता गांव में सहज देखा जा सकता है। विभागीय अधिकारियों की अनदेखी के चलते यह गोरखधंधा उपखंड क्षेत्र के कई गांवों में बदस्तूर जारी है।

निजी क्लीनिक में पांव रखने की जगह नही
कोरोना गाइडलाइन को लेकर झोलाछाप कतई पालना नही कर रहे है और मरीज एक दूसरे से सट कर बैठाए जाते हैं। बुखार, खासी समेत अन्य कई बिमारी के मरीजों को सीधे ही ये ड्रिप चढ़ाकर और खासी दवाइयों की पोटली थमाकर चांदी कूट रहे है। इन झोलाछाप के पास किसी प्रकार की वैध डिग्री नहीं होती है और किसी टीम आने की जानकारी मिलते ही अपनी दुकानदारी का शटर बंद कर भूमिगत हो जाते हैं।

Leave a comment