नागौर में युवक की हत्या पर मचा बवाल, 3 पुलिसकर्मी सस्पेंड

जागरूक टाइम्स 201 Oct 14, 2021

नागौर. नागौर जिले के भावंडा थाना इलाके में मारपीट के बाद हुई युवक की मौत को लेकर मच रहा बवाल थम नहीं रहा है. पुलिस की लापरवाह कार्यशैली से आक्रोशित ग्रामीणों ने भांवडा थाने का गेट तोड़कर शव थाना परिसर में रख दिया है. अभी शव थाने के अंदर रखा है ग्रामीणों ने बाहर धरना दे रखा है. तनाव के हालात के हालात को देखते हुये भावंडा थाने पर भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया है. पुलिस अधीक्षक ने इस मामले में भावंडा थानाप्रभारी शंकर लाल, हेड कांस्टेबल भगवाना राम और कांस्टेबल राधेश्याम को लाइन हाजिर कर दिया है. आज नागौर सांसद हनुमान बेनीवाल के यहां आने की संभावना जताई जा रही है.

जानकारी के अनुसार भावंडा थाना इलाके में गत 1 अक्टूबर सुनील नामक युवक का तीन दर्जन से अधिक लोगों ने अपहरण कर लिया था. बाद में उसके साथ संगीन मारपीट की गई. आरोपी उसे मरा हुआ समझकर पटककर चले गये. बाद में घायल युवक को इलाज के लिये अहमदाबाद ले जाया गया था. इस मामले में परिजनों की ओर से एक दर्जन नामजद और 25-30 अन्य लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कराया गया था. इस बीच वहां मंगलवार युवक को उसकी मौत हो गई. बुधवार को उसके शव का भावंडा लाया गया था. परिजनों और ग्रामीणों का आरोप है कि पुलिस ने इस मामले में अभी तक एक भी आरोपी को गिरफ्तार नहीं किया है.

ग्रामीणों ने पुलिस को दिया चकमा
पुलिस को जब इसकी जानकारी मिली तो वह बीच रास्ते में ही शव को रिसिव करने के लिये खड़ी हो गई. लेकिन गुस्साये ग्रामीण पुलिस की सतर्कता को धत्ता बनाते हुये दूसरी एम्बुलेंस से शव को लेकर भावंडा थाने ले गये. पुलिस जिस एम्बुलेंस की सुरक्षा में जुटी थी उसमें शव था ही नहीं. इसकी जानकारी मिलने पर भावंडा थाने पर पुलिस जाब्ता बढ़ा दिया गया. लेकिन आक्रोशित ग्रामीणों ने थाने का गेट तोड़कर शव परिसर में रख दिया और वहां धरने पर बैठ गये.

थाने के अंदर शव, बाहर ग्रामीणों का धरना
इस बीच शव से बदबू आने लगी तो ग्रामीणों ने उसे डीप फ्रिज में रखने की मांग की. बाद में ग्रामीण डीप फ्रिज लेकर आये और उसमें शव रखने की कोशिश. लेकिन पुलिस ने इसका विरोध किया तो ग्रामीणों की उससे झड़प हो गई. बाद में ग्रामीणों ने जैसे-तैसे करके शव को डीप फ्रिज में रख दिया. अभी तक पुलिस और ग्रामीणों के बीच गतिरोध टूट नहीं पाया है. शव अभी थाने में रखा है और ग्रामीणों बाहर धरना दे रहे हैं. पुलिस प्रशासन के आला अधिकारी हालात पर नजर बनाये हुये हैं.

Leave a comment