राजस्थान : करोड़ों की ज्वेलरी चुराने बांग्लादेश से जयपुर आता था चोर, फ्लाइट में करता था सफर

जागरूक टाइम्स 355 Sep 24, 2021

जयपुर. राजस्थान की राजधानी जयपुर में 5 अगस्त 2020 को एक परिवादी ने कोतवाली थाने में केस दर्ज कराया था. परिवादी ने बताया था कि उसकी फर्म से 12 लाख रुपए और दो चांदी के सिक्के तिजोरी समेत चोरी हो गए हैं, जिसके बाद पुलिस ने अलग अलग टीमों का गठन किया. टीप ने चौड़ा रास्ता, किशनपोल बाजार, अजमेरी गेट, माणकचौक, नाहरगढ़, संजय सर्किल और जालूपुरा में सैंकडों सीसीटीवी फुटेज को खंगाला. सीसीटीवी में मिले हुलिये के आधार पर एक साल की तलाश के बाद आरोपी मोहम्मद रजाक उर्फ कुदुस उर्फ मोहम्मद जमीर उद्दीन को कानपुर से गिरफ्तार किया गया है.

आरोपी ट्रेन से कोलकाता होते हुए बांग्लादेश भागने की फिराक में था. डीसीपी परिस देशमुख ने बताया कि आरोपी बहुत शातिर किस्म का अपराधी है, जो दुकान का शटर तोड़ने की बजाय पीछे से एंट्री करता था. दुकान के पीछे एंट्रेस नहीं होने पर रोशनदान से अंदर प्रवेश करता है. जांच में सामने आया है कि इसी साल मार्च के महीने में भी एक साड़ी की दुकान से करीब एक करोड़ रुपयों की कीमती सामान की चोरी की वारदात को अंजाम दिया है, जहां नगद के साथ साथ आरोपी ने सोना और चांदी के सिक्के भी चुराए थे.

फुटपाथ पर सो कर रेकी
पुलिस ने बताया कि आरोपी के खिलाफ जालूपुरा,नाहरगढ़,कोतवाली और माणक चौक पुलिस थाने में आठ मामले दर्ज हैं. और भी कई वारदातें खुलने की संभावनाएं है. शुरुआती जांच में सामने आया है कि आरोपी ने तीन शादियां कर रखी हैं, लेकिन किसी को भी उसके धंधे के बारे में जानकारी नहीं है. बताया जा रहा है कि आरोपी वारदात करने से पहले फुटपाथ पर सोकर रेकी करता था और वारदात होने के बाद फ्लाइट से बांग्लादेश चला जाता था. अभी तक जांच में ये ही सामने आया है कि आरोपी अकेले ही वारदात को अंजाम देता था, लेकिन पुलिस को शक है कि और भी लोग उसके अपराध में शामिल हो सकते हैं. पुलिस को आरोपी से जयपुर में एक दर्जन वारदातें खुलने की उम्मीद है तो दूसरे शहरों में भी वारदातें खुलने की संभावना है. पुलिस आरोपी से पूछताछ कर रही है. इसके बाद खुलासे हो सकते हैं.

Leave a comment