हनुमानगढ़ : पीलीबंगा में राहुल गांधी की किसान रैली में sachin pilot पायलट को नहीं मिला बोलने का मौका

जागरूक टाइम्स 506 Feb 12, 2021

हनुमानगढ़. किसान आंदोलन के बीच किसानों की आवाज को बुलंद करने राजस्थान के दौरे पर आये राहुल गांधी की किसान रैली में पूर्व पीसीसी चीफ सचिन पायलट को बोलने का मौका ही नहीं मिला. पायलट राहुल के साथ मंच पर बैठे जरूर, लेकिन उनका संबोधन नहीं हुआ. राहुल गांधी ने इस बार न तो गहलोत और पायलट का हाथ पकड़कर एकजुटता दिखाई न ही सचिन पायलट को लेकर नजदीकी का कोई संदेश मंच से दिया. मंच पर हुये इस घटनाक्रम से सियासी गलियारों में चर्चाओं का दौर तेज हो गया है.

राहुल गांधी शुक्रवार को अपने दो दिवसीय दौरे पर राजस्थान पहुंचे. राहुल की दो किसान रैलियां हैं. इनमें पहली रैली हनुमानगढ़ के पीलीबंगा में हुई. दूसरी रैली श्रीगंगानगर के पदमपुर में होगी. पीलीबंगा में आयोजित रैली में मंच पर राहुल गांधी के साथ ही प्रथम पंक्ति में सीएम अशोक गहलोत, कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी अजय माकन, पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा और सचिन पायलट समेत अन्य वरिष्ठ नेता बैठे. इस किसान सम्मेलन में कुर्सियों की जगह चापरइयां लगाई गई थीं.

राहुल गांधी से दूर बैठे राहुल गांधी
पीलीबंगा में किसान रैली में मंच पर राहुल गांधी के बगल में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत बैठे, लेकिन पायलट मंच पर राहुल गांधी से दूर बैठे. राहुल गांधी को मंच पर सीएम अशोक गहलोत और पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा समेत अन्य नेताओं ने किसानों की ओर से हल भेंट किया. इस दौरान भी पायलट शामिल नहीं थे. राहुल गांधी के मंच पर आने से पहले स्थानीय नेताओं ने किसानों को संबोधित किया.

गहलोत, माकन और डोटासरा का संबोधन
राहुल गांधी के मंच पर आने के बाद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, राजस्थान कांग्रेस के प्रभारी अजय माकन और राजस्थान कांग्रेस के अध्यक्ष गोविंद डोटासरा का संबोधन हुआ. संबोधन की सूची में सचिन का नाम नहीं था. सचिन पायलट वर्तमान में किसी पद पर नहीं हैं. वह अभी महज एक विधायक हैं.

Leave a comment