सोनिया की गहलोत से बात, पायलट की राहुल से मुलाकात- राजस्थान में सियासी सुगबुगाहट हुई तेज़

जागरूक टाइम्स 417 Sep 21, 2021

जयपुर. पंजाब के सियासी घटनाक्रम के बाद राजस्थान में तेज हो रही राजनीतिक हलचलों के बीच सूत्रों के हवाले से बड़ी खबर सामने आई है. कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने सीएम अशोक गहलोत से टेलीफोन पर बातचीत कर राज्य के राजनीतिक हालात पर चर्चा की है. चार दिन पहले पीसीसी के पूर्व चीफ सचिन पायलट की राहुल गांधी से मुलाकात हुई थी. अब राजनीतिक विश्लेषक इस बातचीत और मुलाकात को राज्य में नये राजनीतिक समीकरणों के संकेत मान रहे हैं. पंजाब के घटनाक्रम के बाद लोगों की नजरें राजस्थान और छत्तीसगढ़ के राजनीतिक हालात पर टिकी हुई हैं.

सूत्रों के मुताबिक सोनिया गांधी ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से टेलीफोन पर बात की है. बताया जा रहा है कि सोनिया ने गहलोत से प्रदेश के राजनीतिक हालात पर बातचीत की है. इस दौरान मंत्रिमंडल विस्तार समेत संगठन के मुद्दे पर भी चर्चा हुई है. इससे तीन दिन पहले 17 सितंबर को पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट की दिल्ली में राहुल गांधी से मुलाकात हुई थी. पायलट की राहुल गांधी के साथ करीब डेढ़ घंटे तक बैठक हुई बताई जा रही है. पंजाब के घटनाक्रम के बाद मौजूदा हालात में पायलट और राहुल की मुलाकात को काफी अहम माना जा रहा है. दोनों की मुलाकात करीब साल बाद हुई है.

मंत्रिमंडल और संगठन में बदलाव होने की संभावनायें
राहुल और सचिन की इस मुलाकात में भी राजस्थान के राजनीतिक हालात के साथ ही तीन अहम मुद्दों पर बातचीत हुई थी. सूत्रों का दावा है कि दोनों की मुलाकात में राजस्थान में पार्टी संगठन और मंत्रिमंडल में बदलाव तथा पायलट की खुद की भूमिका को लेकर चर्चा हुई थी. सूत्रों का कहना है कि अगले महीने तक मंत्रिमंडल और संगठन में बदलाव होने की संभावनायें हैं. सबकुछ पहले से तय बताया जा रहा है.

आचार्य प्रमोद कृष्णन ने लगाया तड़का
पार्टी केवल सीएम अशोक गहलोत के स्वस्थ होने का इंतजार कर रही है. गहलोत के स्वास्थ्य में अब सुधार हो गया है और वे फिर से कामकाज में सक्रिय हो गये हैं. इन तमाम घटनाक्रमों के बीच प्रियंका गांधी के नजदीकी माने जाने वाले आचार्य प्रमोद कृष्णन ने भी एक ट्वीट कर इसमें तड़का लगा दिया है. उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा कि पंजाब की हवाएं राजस्थान और छतीसगढ़ में भी मौसम बिगाड़ सकती हैं.


Leave a comment