दहेज हत्या के मामले में निष्पक्ष जांच करने की मांग को लेकर पीड़ित पक्ष मिला आईजी से

जागरूक टाइम्स 504 Aug 1, 2020
- अन्य आरोपियों को बचाने में लगा है अनुसंधान अधिकारी

बाड़मेर। दहेज हत्या के मामले में अन्य आरोपियों को गिरफ्तार कर मामले की सही जांच करने की मांग को लेकर पीड़ित पक्ष का एक दल जोधपुर के पुलिस महानिरीक्षक नवज्योति गोगोई एवं एक दल बाड़मेर जिला पुलिस अधीक्षक को ज्ञापन सौंपकर कार्यवाही की मांग की।
ज्ञापन में प्रार्थी सुरेन्द्रसिंह राजपुत निवासी, खारिया, कैलनौर जिला बाड़मेर ने बताया कि, मैंने महिला थाना बाड़मेर में मेरी बहिन पंकज कंवर के पति परमवीर उसकी सास, ससुर व जेठ गणपतसिंह के खिलाफ दहेज हत्या का मामला दर्ज करवाया था।

जिसमें मुख्य आरोपी गणपतसिंह कानिस्टेबल है, जिसनें मेरी बहिन की हत्या करने का सम्पूर्ण षड़यन्त्र रचकर अन्य आरोपियों के साथ योजनाबद्व तरीके से मेरी बहिन की हत्या कर दी। मेरी बहिन के पति परमवीरसिंह जो नखतसिंह की पूर्व पत्नि का पुत्र है, जिसके परिवार को नखतसिंह की सम्पति से बेदखल करने की नियत से मार दिया। इस मामले के एक आरोपी परमवीरसिंह को गिरफ्तार करने के कुछ ही घण्टों बाद न्यायिक अभिरक्षा में भेज दिया जबकि इस मामले में मात्र चार घण्टों में सम्पूर्ण जांच कर जेल भेजना अनुसंधान अधिकारी की भूमिका संदेह उत्पन्न करती है। जिससें मुझे शंक है कि अनुसंधान अधिकारी अपने विभाग में कार्यरत गणपतसिंह को बचाना चाहते है। अगर आरोपी परमवीरसिंह से सही तरीके से पुछताछ की जाती तो सभी दोषीयों का जुर्म साबित हो जाता।

इस मामले को लेकर पीड़ित पक्ष लगातार बाड़मेर के एसपी से कई बार मिला और सभी आरोपियों को गिरफ्तार करने की गुहार लगाई लेकिन किसी प्रकार की कार्यवाही नहीं हुई। यहां तक की इस मामले में निष्पक्ष जांच करने हेतु परिवादी द्वारा पूर्व में महिला आयोग व पुलिस महानिरीक्षक जोधपुर को भी ज्ञापन दिये गये इसके उपरान्त भी पुलिस अधीक्षक बाड़मेर अन्य आरोपियों को बचाने में लगे हुए है।

Leave a comment