बाड़मेर : लोहावट रेलवे ट्रैक पर नाबालिग लड़की का शव मामले में सौपा ज्ञापन

जागरूक टाइम्स 355 Oct 10, 2020

बाड़मेर। लोहावट जोधपुर जाटावास सरहद में 21 सितम्बर को रेल्वे ट्रैक पर लोहावट विष्नावास निवासी एक नाबलिग लड़की का शव मिलने के मामले में 18 दिन बाद भी कार्यवाही नही होने पर वैष्णव समाज ने आज राज्य महिला एवं बाल संरक्षण आयोग अध्यक्ष संगीता बेनिवाल एवं बीजेपी प्रदेषाध्यक्ष सतीष पूनिया एवं जिला कलक्टर के मार्फत मुख्यमंत्री को ज्ञापन सौपकर पूरे प्रकरण की उच्च अधिकारियों से निष्पक्ष जांच करवाने की मांग की। वैष्णव समाज के प्रतिनिधि मडल ने गुरूवार को राज्य महिला एवं बाल सरंक्षण आयोग अध्यक्ष और मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौपाकर अष्वनी रामावत ने बताया कि लौहावट विष्नावास कस्बे की 16 वर्षीय नाबालिग लड़की जो घर पर रहकर पढाई करती और अपनी माता के पास रहती थी।

18 सितम्बर को कुछ उसके घर आए और उसे घर से उठाकर ले जाने की धमकी दी थी दूसरे दिन लड़की घर नही आई तो उसका शव रेल्वे ट्रैक के पास मिला। जिस पर रेलवे पुलिस ने आत्महत्या का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी लेकिन घटना के 18 दिन बाद भी रेलवे पुलिस ने अब तक कोइ्र कार्यवाही नही की। प्रथम दृष्टया षव को देखने से पता चलता है कि नाबालिग के षड्यंत्रपूर्वक तरीके से उसके साथ सामूहिक अनैतिक कार्य करके हत्या कर रेलवे ट्रैक पर डाला गया है, उसके शरीर पर नाखूनो एवं चोटों के निषान दिख रहे थे। उसके साथ षड्यंत्रपूर्वक अनैतिक कार्य करके उसकी हत्या की गई।

मृतका के पास मिले लेटर की विषेषज्ञों से जांच करवाई जाए। वही ज्ञापन में मांग की गई प्रकरण में केवल आत्महत्या की जांच नही कर तथ्यों के आधार पर मृतका के साथ हुए सामूहिक बलात्कार एवं षड्यंत्रपूर्वक हत्या मानते हुए जांच की जाए। जिससे उस नाबालिग बच्ची और उसके परिवार को न्याय मिल सकें। इस पूरे प्रकरण की मांग उच्च एवं निष्पक्ष अधिसकारी से जांच करवाई जाए। ज्ञापन देने के दौरान योगेष रामावत, ओमदास खुडासा, ओमप्रकाष भाचभर, गोपालदास, कमलदास बीसूकलां, भीखदास , जीतूदास रावतसर, किषनदास कोटड़ा, माधुदास तेना, किषोर सदीप रामावत, जितेन्द्र रामावत, चन्द्रप्रकाष, तरूण, सहित सैकड़ो समाज के लोग मौजूद थे। ,

Leave a comment