पुणे की सैनिटाइजर फैक्‍ट्री में लगी आग में अब तक 15 महिलाओं सहित 18 लोगों की मौत, जांच के आदेश

जागरूक टाइम्स 366 Jun 8, 2021

पुणे. महाराष्ट्र के पुणे में बीती रात एक केमिकल फैक्ट्री में भीषण आग लग गई. इस हादसे में अब तक 18 लोगों की मौत हो चुकी है. मरने वालों में 15 महिलाएं शामिल हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आग हादसे पर शोक जाहिर किया है. उन्होंने इस हादसे में मारे गए लोगों के परिजनों को दो लाख रुपये का मुआवजा देने का ऐलान भी किया है. वहीं, पुणे के जिला कलेक्टर ने जांच के आदेश दिए हैं. जिला कलेक्टर ने कहा कि चार सदस्यों की एक कमेटी आग लगने की वजहों का पता लगाएगी. इस बात की भी जांच की जाएगी कि वहां पहले से आग लगने से बचने के लिए सुरक्षा के इंतजाम किये गये थे या नहीं?

मिली जानकारी के मुताबिक, घटना पीरंगुट इलाके में स्थित एक इंडस्ट्रियल प्लांट में हुई. यह क्षेत्र मुल्सी तहसील के अंतर्गत आता है. जिस फैक्‍ट्री में आग लगी है वो सैनिटाइजर बनाने की बताई जा रही है. इस फैक्ट्री में ज्यादातर महिलाएं काम करती थीं. सुबह तक 18 लोगों की लाश बाहर निकाली गई है. 5 लोग अब भी लापता हैं.

जिस वक्त आग लगी, उस समय यहां 37 कर्मचारी काम कर रहे थे. 18 लोगों के शव बरामद किए जा चुके हैं. 19 लोगों को बाहर निकाल लिया गया है. फायर ब्रिगेड के एक कर्मचारी के मुताबिक, फायर ब्रिगेड की 8 गाड़ियों ने कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पा लिया गया है. फिलहाल लापता लोगों की तलाश की जा रही है.

पीएमआरडीए (पुणे महानगर क्षेत्रीय विकास प्राधिकरण) के दमकल विभाग के अधिकारियों ने बताया कि एसवीएस एक्वा टेक्नोलॉजीज के प्लांट में लगी आग के बाद कई कर्मचारी लापता हैं जिनकी तलाश की जा रही है. उन्होंने कहा कि कंपनी विभिन्न प्रकार के रसायनों का उत्पादन और निर्यात करती है.

Leave a comment