मुंबई में कोरोना के बढ़ते मामलों से निपटने हेतु मनपा ने सभी कोविड सेंटर किए एक्टिव

जागरूक टाइम्स 302 Feb 25, 2021

- बेड्स और स्टाफ की संख्या बढ़ाई

मुंबई, (ईएमएस)। मुंबई में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए एक बार फिर इससे निपटने के लिए मुंबई महानगरपालिका प्रशासन ने अपनी पूरी ताकत आगा दी है. मनपा ने वैश्विक महामारी से निपटने के लिए सभी कोविड सेंटर को एक्टिव कर दिया है साथ ही सभी वार्ड में एक नए कोविड सेंटर बनाने का लक्ष्य तैयार किया है. ज्ञात हो कि पिछले साल अक्टूबर महीने में कोरोना की रफ्तार धीमी पड़ने के कारण मनपा ने मुंबई में कई कोविड सेंटर्स को अस्थाई रूप से बंद कर दिया था. लेकिन एक बार फिर से कोरोना के बढ़ते मामलों को देख मुंबई में मौजूद सभी कोविड सेंटर्स को मनपा द्वारा एक्टिवेटकिया गया है.

लंबे वक्त तक कोरोना कैपिटल रही मुंबई में मौजूद देश का सबसे बड़ा कोविड जंबो सेंटर भी अब फिर से मुंबई को दूसरी लहर से बचाने के लिए तैयार है. बीकेसी जंबो सेंटर के डीन राजेश डेरे कहते हैं कि मनपा से मिले निर्देश के अनुसार कोविड सेंटर में काम की शुरूआत हो चुकी है. मुंबई में मौजूदा कोरोना की स्थिति को देखते हुए बेड्स और स्टाफ की संख्या बढ़ा दी गई है. स्टाफ को एक्टिवेट कर दिया गया है. सभी चीज़ों का खास ध्यान रखा जा रहा है. डॉक्टर डेरे का कहना है की कोविड सेंटर रूम में टास्क फोर्स रूम से निगारनी रखी जा रही है. मुंबई में कोरोना के दूसरे लहर से निपटने के लिए अकेले बीकेसी जंबो सेंटर में 2 हजार से अधिक बेड्स उपलब्ध है. जिसमें 100 से अधिक आईसीयू बेड्स और डायलिसिस मरीज के लिए बेड्स पर्याप्त संख्या में मौजूद है.

मुंबई में अगर मनपा के चलाए जा रहे सेंटर में बेड्स के आंकड़ों पर नज़र डालें तो कुल मिलाकर 70,518 बेड्स उपलब्ध है. जिसमे से 13,136 बेड एक्टिव है. 9,757 बफर बेड है और बाकी बेड्स डीएक्टिवेट थे जिन्हें अब एक्टिव कर दिया गया है. वहीं अगर कोविड अस्पताल की बात करें तो कोविड अस्पतालो में 11, 205 बेड है जिसमे से 7,915 बेड्स खाली पड़े है. वहीं मनपा के अतरिक्त आयुक्त सुरेश काकानी का कहना है कि बढ़ते मामलों के साथ मनपा की तैयारी पूरी है. बेड्स प्रयाप्त संख्या में मौजूद है. कोविड सेंटर्स एक्टिव करने के साथ हमने कई और सुविधाएं भी बढ़ा दी है और कोरोना से लड़ने के लिए हम तैयार है.



Leave a comment