सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों के पैसे से बनी सरदार पटेल की मूर्ति

जागरूक टाइम्स 576 Nov 1, 2018

मुंबई । दुनिया की सबसे ऊंची मूर्ति सरदार पटेल की प्रतिमा के निर्माण में सार्वजनिक कंपनियों द्वारा लगभग 293 करोड रुपए का योगदान दिया गया है। केंद्रीय महालेखा नियंत्रक परीक्षक की हालिया रिपोर्ट में वर्ष 2016-17 में इस मूर्ति के निर्माण के लिए सीएसआर फंड से 147 करोड रुपए देने की बात रिपोर्ट में लिखी है।

वहीं प्राइम डेटाबेस के अनुसार सूचीबद्ध कंपनियों ने पिछले 5 वर्षों में 293 करोड रुपए सरदार पटेल की मूर्ति के लिए अपना योगदान दिया है। केंद्रीय महानिरीक्षक एवं लेखा नियंत्रक की रिपोर्ट के अनुसार स्टेचू ऑफ़ लिबर्टी की प्रतिमा निर्माण में धन की कमी आने के बाद सार्वजनिक कंपनियों को अंशदान के लिए कहा गया था।

सरदार पटेल की प्रतिमा का काम संभाल रहे ट्रस्ट ने ओएनजीसी, एचपीसीएल, बीपीसीएल, आईओसी, ऑल इंडिया गैल इंडिया पावर ग्रिड कारपोरेशन, गुजरात मिनरल डेवलपमेंट कारपोरेशन, इंजीनियरिंग इंडिया पेट्रोनेट एलएनजी जैसी कंपनियों से 293 करोड रुपए सीएसआर फंड से एक‎त्रित किए हैं।

Leave a comment