मुंबई बना हॉटस्पॉट, 98 फीसदी आईसीयू फुल

जागरूक टाइम्स 325 Apr 15, 2021

पांच सितारा होटल में भी चल रहे अस्पताल

मुंबई (ईएमएस) । महाराष्ट्र में कोरोना महामारी कहर बनकर टूट रही है। महाराष्ट्र देश में कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित वाला राज्य बना हुआ है। यहां लोग हलाकान और परेशान हैं। बीते 24 घंटे में 58 हजार, 952 नए मामले सामने आए हैं। इसमें बुधवार को मुंबई में 9 हजार संक्रमित मरीजों की संख्या भी शामिल है। महाराष्ट्र का मुंबई शहर तो कोरोना का हॉटस्पॉट बना हुआ है। यहां पर कोरोना मरीजों की तादाद लगातार बढ़ती जा रही है। स्वास्थ्य व्यवस्था चरमराने लगी है। दवाइयां, ऑक्सीजन, बेड्स की कमी होने लगी है। देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में कोरोना से बिगड़ रहे हालात को देखते हुए राज्य सरकार और बीएमसी ने पांच सितारा होटलों को कोविड सेंटर में तब्दील करने का फैसला किया है। बीएमसी ने बताया कि शहर के दो फाइव स्टार होटलों को कोरोना मरीजों के लिए तैयार किया गया है। हालांकि इन होटलों में कोरोना के गंभीर मरीजों को नहीं रखा जाएगा। हल्के संक्रमण वाले मरीज ही यहां रहेंगे।

42 बेड्स के होंगे निजी अस्पताल
बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) ने बताया कि महाराष्ट्र सरकार ने पांच सितारा होटलों को कोविड सेंटर में बदला गया है। इन होटलों को निजी अस्पतालों के तौर पर इस्तेमाल करने की मंजूरी मली है। दोनों होटलों में कुल 42 बेड्स को कोरोना मरीजों के लिए रखा गया है। मरीन ड्राइव में इंटरकांटिनेंटल होटल में 22 और बांद्रा कुर्ला कॉम्प्लेक्स (बीकेसी) में ट्राइडेंट होटल में 20 बेड का कोविड अस्पताल तैयार किया गया है। गुरुवार से इन निजी अस्पतालों में इलाज शुरू हो जाएगा। बीएमसी प्रमुख इकबाल सिंह चहल ने मीडिया से कहा कि मुंबई में कोरोना की वजह से अस्पतालों में बेड को लेकर थोड़ी बहुत समस्या है।

 ऐसे में राज्य सरकार ने चार सितारा और पांच सितारा होटलों को खाली कराकर कोरोना मरीजों को शिफ्ट करने का फैसला किया है। इन होटलों में कोरोना मरीजों का समुचित इलाज किया जाएगा। बीते दिनों बीएमसी ने बताया था कि वेंटिलेटर और बिना वेंटिलेटर वाले इंटेंसिव केयर यूनिट (आईसीयू) के बेड करीब-करीब फुल हो चुके हैं। 14 अप्रैल तक उनके पास सिर्फ 41 आईसीयू बेड बचे हैं। शहर के अस्पतालों में 80 प्रतिशत तक कोरोना के मरीज बेड पर हैं। जबकि 98 फीसदी आईसीयू के बेड भरे हुए हैं। बीएमसी ने कहा कि अगर शहर में बेड की जरूरत पड़ी तो आने वाले दिनों में कोरोना मरीजों के लिए और होटलों का इस्तेमाल किया जा सकता है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक बीएमसी 2000 बेड्स बढ़ाने की योजना बना रही है

Leave a comment