कोरोना के साये में मनाना पड़ेगा क्रिसमस व नए साल का जश्न

जागरूक टाइम्स 247 Dec 14, 2020

- २० दिसंबर के बाद लग सकता है नाइट कर्फ्यू

मुंबई, (ईएमएस)। इस साल जिस प्रकार सभी पर्व त्यौहार लोगों ने कोरोना के साये में मनाया है उसी प्रकार क्रिसमस व नए साल का जश्न भी अपने घरों पर ही रहकर मनाना पड़ेगा. दरअसल मुंबई में कोरोना संक्रमण को देखते हुए क्रिसमस और नए साल के मौके पर भीड़ इकट्ठा होने पर पुलिस रोक लगा सकती है। रात में गेटवे ऑफ इंडिया, जुहू बीच और अन्य जगहों में जश्न मनाने या पटाखे फोड़ने पर भी पाबंदी लगाई जा सकती है। ज्ञात हो कि ‘थर्टी फर्स्ट’ के मौके पर बड़ी संख्या में लोग रात में बाहर निकलकर जश्न मनाते हैं। दोस्तों के साथ या सोसायटी परिसर में पार्टी करते हैं। विभिन्न चौपटियों पर जाकर नाच-गाना और आतिशबाजी करते हैं। इसके अलावा मुंबईकर जश्न मनाने के लिए नाइट क्लबों, पबों, बारों, रेस्तराओं में जाते हैं। इन सबको देखते हुए प्रशासन सतर्क है, ताकि भीड़ पर अंकुश लगाया जा सके।

कोरोना गाइडलाइन के मुताबिक एक जगह पर ५० लोगों से ज्यादा लोग इकट्ठा नहीं हो सकते हैं। इसलिए क्रिसमस और नए साल का जश्न फीका ही रहेगा। इस अवसर पर लोगों की भीड़ इकट्ठा न हो, इसके लिए मुंबई पुलिस भी पूरी तैयारी में है। पुलिस ने मनपा की मदद से क्लबों, पबों और बारों पर कार्रवाई तेज कर रखी है। पुलिस के मुताबिक अभी भी कई लोग लापरवाही बरतते हुए बिना मास्क के घूम रहे हैं। यही वजह है कि मनपा रात में कर्फ्यू लगाने पर विचार कर रही है। २० दिसंबर के बाद नाइट कर्फ्यू पर फैसला लिया जा सकता है। बताया जा रहा है कि अगर हालात बेकाबू होते नजर आए तो प्रशासन रात में ११ बजे से सुबह ६ बजे तक कर्फ्यू लगा सकता है। इसकी पुष्टि मुंबई के मनपा आयुक्त इकबाल सिंह चहल ने भी की है। फिलहाल मुंबई पुलिस लॉकडाउन नियमों का उल्लंघन करने वालों पर लगातार कार्रवाई कर रही है।



Leave a comment