महाराष्ट्र से गुजरात आने के लिए नेगेटिव कोविड-19 रिपोर्ट जरूरी

जागरूक टाइम्स 530 Mar 24, 2021

अहमदाबाद. गुजरात सरकार ने पड़ोसी राज्य महाराष्ट्र से आने वाले लोगों के लिए नेगेटिव आरटी-पीसीआर जांच रिपोर्ट साथ लाना अनिवार्य कर दिया है और यह जांच 72 घंटे से पहले नहीं करायी होनी चाहिए. राज्य सरकार ने कहा कि महाराष्ट्र में कोविड-19 के मामलों में भारी वृद्धि के मद्देनजर यह निर्णय लिया गया है. महाराष्ट्र के स्वास्थ्य विभाग के अनुसार 23 मार्च को 28,699 नए मरीजों के सामने आने से राज्य में इस महामारी के मामले बढ़कर 25,33,026 हो गये.

स्वास्थ्य विभाग ने मंगलवार को जारी किये गये आदेश में कहा कि पिछले एक सप्ताह में कोविड-19 के मामलों के संपर्कों की पहचान के दौरान पाया गया कि बड़ी संख्या में संक्रमित लोग महाराष्ट्र से लौटे थे. उसने कहा कि महाराष्ट्र से गुजरात आने वाले लोगों को अनिवार्य स्क्रीनिंग से भी गुजरना होगा.

नेगेटिव रिपोर्ट वालों को ही मिलेगी राज्य में एंट्री
स्वास्थ्य विभाग के उपसचिव वनराज सिंह पधियार द्वारा जारी किये गये आदेश में कहा गया है, "महाराष्ट्र से केवल वे लोग ही गुजरात में प्रवेश करने के पात्र होंगे जिन्होंने अपनी यात्रा से 72 घंटे पहले आरटी-पीसीआर जांच करायी हो और जांच परिणाम नेगेटिव हो."

दिल्‍ली में फैल रही है अफवाह
कुछ अफवाहें भी सोशल मीडिया से लेकर कई जगहों पर सामने आ रही हैं, जिनमें कहा जा रहा है कि किसी भी राज्‍य में जाने और वहां से दिल्‍ली वापस आने के लिए कोरोना टेस्‍ट की नेगेटिव रिपोर्ट साथ लानी होगी.


Leave a comment