पाली : अदालत में फिर जुडी रिश्तों की डोर

IANS | Sep 8, 2018

दांपत्य जीवन में आई खटास के बाद पति पत्नी आए तो थे पारिवारिक न्यायालय के जरिए विवादों का निस्तारण करवाने लेकिन दांपत्य जीवन की डोर को तोड़ चुके इन पति पत्नियों ने भी नहीं सोचा था कि उनका विवाह दोबारा न्यायिक अधिकारियों की मौजूदगी में दोबारा होगा ।

राष्ट्रीय लोक अदालत के जरिए शनिवार को पारिवारिक न्यायालय में शहनाई तो नहीं बजी लेकिन न्यायिक अधिकारियों व अधिवक्ताओं के प्रयासों से 4 परिवारों की जिंदगी जरूर बस गई यह पति पत्नी लोक अदालत के प्रयासों के चलते अपने सभी विवादों को बुलाकर राजी खुशी न्यायिक अधिकारियों की मौजूदगी में एक दूसरे को वर माला पहनाकर मुंह मीठा करवाया और जीवन भर के लिए एक दूसरे का हाथ थाम कर अपने घरों की ओर चल पड़े ।