11 अक्टूबर 2018 : राजस्थान की खबरों का पिटारा

IANS | Oct 11, 2018

विश्व दृष्टि दिवस के अवसर पर गुरूवार को 11 अक्टूबर को बाँगड मेडिकल कॉलेज में कार्यशाला आयोजित की गई। बांगड़ चिकित्सालय में संचालित हो रहे जीएनएम ट्रैनिंग सेंटर में आयोजित इस कार्यशाला में मेडिकल काॅलेज के प्रधानाचार्य डाॅ.के.सी.अग्रवाल ने बच्चों महिलाओं एवं वृद्ध लोगों की नियमित नेत्र जांच के लिए प्रेरित करने को कहा। कार्यशाला में मेडिकल काॅलेज के नेत्र विभाग के सहायक आचार्य डॉ विपुल नागर ने बताया कि प्रत्येक वर्ष के अक्टूबर माह के दूसरे गुरुवार को विश्व स्वास्थ्य संगठन एवं आईएपीबी (इंटरनेशनल ऐजेंसी फॉर प्रिवेंशन ऑफ ब्लाइंडनेस) के सहयोग से विश्व दृष्टि दिवस मनाया जाता है।

आसाराम का आत्म साक्षात्कार दिवस मनाया
समर्थकों ने जेल के बाहर जलाए दीप, रंगोली सजाई
जोधपुर। अपने ही आश्रम में नाबालिग छात्रा से यौन शोषण के आरोपी आसाराम के आत्म साक्षात्कार दिवस पर एक बार उनके समर्थक जोधपुर में सेंट्रल जेल के बाहर भारी संख्या में जुटे। यहां उनके समर्थकों की भारी भीड़ देखने को मिली। आसाराम के समर्थकों द्वारा जेल के बाहर महाआरती का आयोजन कर दीप लगाए गए। इस मौके पर देश के विभिन्न हिस्सों से आए कई समर्थक मौजूद थे और उन्होंने वहां आसाराम की तस्वीर के समक्ष रंगोली बनाकर दीप जलाए।

हाईकोर्ट ने एमडीएस विवि के नवनियुक्त कुलपति के कार्य करने पर लगाई रोक
जोधपुर। राजस्थान हाईकोर्ट की खंडपीठ ने महर्षि दयानंद सरस्वती विश्वविद्यालय (एमडीएस) अजमेर के नवनियुक्त कुलपति प्रो. आरपी सिंह के कार्य करने पर रोक लगा दी है। याचिकाकर्ता लक्ष्मीनारायण बैरवा की ओर से अधिवक्ता रजत अरोड़ा के मार्फत कोर्ट में याचिका दायर करते हुए जेएनवीयू तथा अजमेर के एमडीएस विवि में कुलपति की नियुक्ति को लेकर याचिका दायर की गई थी।