अस्थायी अतिक्रमियों पर चला नगर परिषद का डंडा