आखिर कहां गुम हो जाती है तोंद पर चढी चर्बी की परत

जागरूक टाइम्स 191 Sep 24, 2018

मेलबर्न ।जब जिम जाकर मेहनते करते है तो तोंद पर चढ़ी चर्बी की परत कहां गुम हो जाती है। इस सवाल का जवाब अगर आपको नहीं पता है, तो शर्मिंदा होने की कोई बात नहीं है। इसका सही जवाब स्वास्थ्य की दुनिया में दखल रखने वाले करीब 150 से ज्‍यादा विशेषज्ञों में से कुछ ही लोग दे पाए थे। ऑस्ट्रेलिया में सिडनी के यूनिवर्सिटी ऑफ साउथ वेल्स के प्रोफेसर एजे ब्राउन और रिसर्चर रूबेन मीरमान भी उन लोगों में शामिल थे जिनसे ये पूछा गया था।

ज्‍यादातर लोगों ने जवाब दिया कि जो चर्बी हम घटाते हैं वो ऊर्जा में बदल जाती है। शोधकर्ताओं का कहना है कि ऐसा नहीं हो सकता क्योंकि इससे पदार्थ के संरक्षण के नियम का उल्लंघन होता है। अब इसका जवाब प्रोफेसर एंड्र्यू जे ब्राउन और रिसर्चर रूबेन मीरमान ने दिया है। इनके मुताबिक चर्बी, कार्बन डाइ ऑक्साइड और पानी में बदल जाती है। कार्बन डाई ऑक्साइड सांस छोड़ने के दौरान हमारे शरीर से बाहर निकल जाता है।

रही बात पानी की तो ये विभिन्न शारीरिक क्रियाओं से होता हुआ पेशाब के रूप में बाहर निकल जाता है। विशेषज्ञों का मानना है कि हम जो कुछ भी खाते हैं वो कार्बन डाइ ऑक्साइड रूप में हमारे फेफड़ों से बाहर फेंक दिया जाता है। हम जो भी कार्बोहाइड्रेट और वसा लेते हैं वो कार्बन डाइ ऑक्साइड और पानी में टूट जाता है। यही प्रक्रिया प्रोटीन के साथ भी होती है।

हालांकि कुछ चीजें यूरिया और दूसरे ठोस के रूप में भी बंट जाती हैं और बाद में मल, पसीने या यूरीन के रूप में शरीर से बाहर निकल जाती हैं। सिर्फ फाइबर्स ही ऐसे होते हैं जो हमारे पेट तक पहुंचते हैं और पाचन क्रिया के बाद बचा हुआ अवशेष मल के रूप में बाहर आता है। इस तथ्‍य पर अगर गौर किया जाए तो यह समझ में आता है कि चर्बी का एक हिस्सा फेफड़ों से कार्बन डाइ ऑक्साइड के रूप में बाहर निकलता है।

Leave a comment