दिल को छूती डियर जिंदगी

जागरूक टाइम्स 186 May 24, 2018
फिल्म की कहानी कायरा (आलिया भट्ट) की है, जिसने सिनेमेटोग्राफी का कोर्स किया है और छोटे छोटे विज्ञापन डायरेक्ट करती रहती है। कायरा की तमन्ना है कि वो जल्द ही एक डायरेक्टर के तौर पर फिल्म करे, लेकिन कहानी में कुछ ट्विस्ट आता है। कुछ सवालों के जवाब जानने के लिए वो हर दिन जूझती रहती है। कहानी में समय-समय पर कुछ किरदार जैसे प्रोड्यूसर रघुवेन्द्र (कुनाल कपूर) , होटेलियर सिड (अंगद बेदी) और सिंगर रूमी (अली जफर) आते हैं जिनके साथ कायरा थोड़ा वक्त गुजरती है। लेकिन अचानक उसकी मुलाक़ात थेरेपिस्ट जग (शाहरुख खान) से होती है, जिसकी बातों को सुनना कायरा को काफी पसंद आने लगता है। क्या डॉक्टर जग कायरा की तलाश को पूरा कर पाने में उसकी मदद करेंगे? क्या जिंदगी से जुडे सवालों का जवाब कायरा को मिल पाता है? इसका पता आपको थिएटर तक जाकर ही चल पाएगा। >> डायरेक्शन गौरी शिंदे ने एक बार फिर कमाल का डायरेक्शन किया है। ेइंग्लिश-विंग्लिशब के बाद यह गौरी शिंदे की डायरेक्टर के तौर पर दूसरी फिल्म है। फिल्म की कमजोरी इसकी अवधि है। 149 मिनट यानी 2।29 घंटे की इस फिल्म में एक सख्त एडिटिंग की आवश्यकता थी। लंबे स्क्रीनप्ले की वजह से आपका इंटरेस्ट एक वक्त के बाद जाने लगता है और दिमाग में ये बात चलने लगती है की आखिर फिल्म ख़त्म कब होगी। फिल्म की सिनेमेटोग्राफी के साथ-साथ बैकड्रॉप कमाल का है। >> स्टारकास्ट की परफॉर्मेंस आलिया भट्ट की परफ़ॉर्मेंस को देखकर कह सकते हैं कि वो इस पीढ़ी की सर्वोत्तम अभिनेत्री हैं, जिनके पास एक्सप्रेशंस की कमी नहीं है। आलिया आपको कभी हंसाती हैं तो कभी कभी आंखें नम करने पर विवश भी करती हैं। वहीँ फिल्म में अंगद बेदी, कुनाल कपूर और अली जफऱ का काम भी सहज है। शाहरुख खान जब भी स्क्रीन पर आते हैं, एक अलग तरह की ऊर्जा थिएटर में दिखाई पड़ती है। शाहरुख जिंदगी की कुछ अहम बातों पर भी एक सरल अंदाज में रोशनी डालते हैं। आलिया के दोस्तों के रूप में इरा दुबे और बाकी एक्टर्स ने भी अच्छा काम किया है। >> फिल्म का म्यूजिक फिल्म का म्यूजिक एक बार फिर से अमित त्रिवेदी ने बेहतरीन दिया है, फिल्म का टाइटल ट्रैक और बाकी गाने फिल्म के हिसाब से करेक्ट हैं। बैकग्राउंड स्कोर भी बहुत अच्छा है। >> देखें या नहीं आलिया भट्ट की अदायगी और शाहरुख खान की प्रेजेंस अच्छी लगती है, तो मिस मत कीजिएगा।

Leave a comment