मिथुन के बेटे व पत्‍नी योगिता पर कानून का शिकंजा कसा, याचिका खारिज

जागरूक टाइम्स 192 Jul 5, 2018

मुंबई । मुंबई हाईकोर्ट ने मिथुन चक्रवर्ती के परिवार को राहत देने से इंकार करते हुए उनकी अग्रिम जमानत याचिका खारिज कर दी है। मिथुन के बेटे महाअक्षय और उनकी पत्‍नी योगिता बाली पर कानून का शिकंजा कसता जा रहा है। दिल्‍ली के रोहिणी कोर्ट के आदेश के बाद महाअक्षय और योगिता बाली के खिलाफ बलात्‍कार, धोखाधड़ी और सहमति के बिना गर्भपात के आरोप में एफआईआर दर्ज की गई है।

जानकारी के अनुसार एक भोजपुरी अभिनेत्री ने आरोप लगाया है कि महाअक्षय ने उनसे शादी का वादा किया था। इसके बाद शादी का झांसा देकर उसका यौन शोषण किया और जब वह गर्भवती हो गई तो उसकी सहमति के बिना उसका गर्भपात करा दिया गया। गर्भपात कराने में मिथुन चक्रवर्ती की पत्नी योगिता बाली ने भी बेटे का साथ दिया।

इस पर रोहिणी कोर्ट ने बेगमपुर थाने की पुलिस को इस मामले में एफआईआर दर्ज करने के आदेश जारी कर दिए हैं। इस मामले में अभी तक महाअक्षय या फिर उनकी मां की ओर से कोई भी प्रतिक्रिया नहीं आई है। गौरतलब है कि मिथुन चक्रवर्ती के बेटे महाअक्षय और फिल्‍म निर्देशक सुभाष शर्मा की बेटी मदालसा शर्मा की जल्‍द शादी होने वाली है।

Leave a comment