आव्रजन समस्या के निदान पर विधेयक लाने की तैयारी

जागरूक टाइम्स 138 Jun 20, 2018

वाशिंगटन । अमेरिका में लेटिन अमेरिका से प्रति माह अवैध रूप से आने वाले सैकड़ों परिवारों को हिरासत में लेते समय छोटे-छोटे बच्चों को परिवार से अलग टेंटों में रखे जाने की समस्या पर रिपब्लिकन और डेमोक्रेटिक नेताओं के बीच राजनीति शुरू हो गई है। इस समस्या को लेकर मध्यावधि चुनाव नतीजों पर असर पड़ने की आशंका ज़ाहिर की जा रही है। टेंटों में बिलखते बच्चों की चित्कार से द्रवित हो कर मैरीलैंड के रिपब्लिकन गवर्नर लैरी होगन ने अपने नेशनल कोस्ट गार्ड और हेलीकाॅप्टर हटाने के निर्देश दे दिए है।

सत्तारूढ़ रिपब्लिकन पार्टी के नेता मिक मक्नोल ने कहा है कि वह इस सिलसिले में डेमोक्रेटिक नेताओं से बातचीत कर शीघ्र ही कांग्रेस में एक विधेयक लाएंगे। इसके विपरीत डेमोक्रेटिक पार्टी के नेता चुक शुमर ने कहा है कि रिपब्लिकन नेता इतने ही गम्भीर हैं तो राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प को तत्काल कार्यकारी आदेश जारी कर देना चाहिए। उन्होंने कहा कि इस समस्या के कानूनी निदान में वक़्त लगेगा। क़ानून बनाए जाने के मार्ग में अनेक बाधाएं हैं।

उधर, मिक मेक्नोल ने कहा है कि अवैध रूप से अमेरिकी सीमा में घुसने वाले ऐसे सभी परिवारों को उनके बच्चों सहित एक ही स्थान पर शरण दी जाएगी और फिर अदालत तय करेगी कि किसे शरण दी जाए। टेक्सास से रिपब्लिकन सिनेटर टेड क्रूज ने एक क़दम आगे बढ़ते हुए कहा है कि अदालत से त्वरित फ़ैसलों के लिए कुछ हज़ार मजिस्ट्रेट नियुक्त किए जा सकते हैं।

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने ‘नेशनल फ़ेडरेशन आॅफ इंडिपेंडेंट बिज़नेस’ पर आयोजित एक संगोष्ठी में कहा कि इस समस्या के निदान में हज़ारों अदालतों के गठन का कोई औचित्य नहीं है। मजिस्ट्रेट को पथ भ्रष्ट किया जा सकता है और वक़ीलगण इस कार्य में सहायक हो सकते हैं।

Leave a comment