खुफिया, सरकारी जानकारी पर मीडिया की नियमित रिपोर्टिंग खतरनाक : व्हाइट हाउस

जागरूक टाइम्स 147 Aug 2, 2018

वाशिंगटन : व्हाइट हाउस ने एक बार फिर प्रेस की स्वतंत्रता को समर्थन करते हुए आरोप लगाया है कि सरकारी और गोपनीय सूचनाओं पर मीडिया के लगातार रिपोर्ट करने से लोगों की जान और राष्ट्रीय सुरक्षा को जोखिम हो सकता है। दरअसल फ्लोरिडा में ट्रंप की एक रैली के दौरान एक राष्ट्रीय समाचार चैनल के संवाददाता के साथ धक्कामुक्की होने के बाद व्हाइट हाउस ने यह टिप्पणी की है।

अमेरिका में ट्रंप प्रशासन के दौरान मीडिया पर बढ़ रहे हमलों को लेकर किये गए एक सवाल के जवाब में व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव सारा सैंडर्स ने बताया, हम स्वतंत्र प्रेस का पूर्ण समर्थन करते हैं, लेकिन इसके साथ महत्वपूर्ण जिम्मेदारी भी आती है। मीडिया नियमित रूप से गोपनीय सूचनाओं और सरकार की खुफिया जानकारी पर खबरें देता है जिससे लोगों की जान और राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरा पैदा हो सकता है। ऐसा हमारे और पूर्ववर्ती दोनों प्रशासनों के दौरान हुआ है।’’

सैंडर्स ने कहा कि सबसे बुरे मामलों में से एक मामला 90 के दशक के आखिर में ओसामा बिन लादेन के सैटेलाइट फोन सुनने की अमेरिकी क्षमता की एक रिपोर्टिंग है। रिपोर्टिंग के कारण लादेन ने उस फोन का इस्तेमाल ही बंद कर दिया और देश को महत्वपूर्ण खुफिया जानकारी मिलना बंद हो गई। सारा ने कहा,दुर्भाग्यवश, अब सामान्य बोध और नैतिक प्रचलन को छोड़ना मानक बन गया है।

यह एक दोतरफा रास्ता है। हम निश्चित रूप से एक स्वतंत्र प्रेस का समर्थन करते हैं और किसी के खिलाफ हिंसा की निंदा भी करते हैं। इसके साथ ही हम उन लोगों से जिम्मेदार हो कर तथा सही और निष्पक्ष तरीके से रिपोर्ट करने को भी कहते हैं। उन्होंने कहा कि राष्ट्रपति किसी के भी खिलाफ हिंसा का या अन्य बातों का समर्थन नहीं करते।

Leave a comment