स्टेन ने टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लिया

जागरूक टाइम्स 770 Aug 6, 2019

सीमित ओवरों के प्रारुप में खेलते रहेंगे

जोहानिसबर्ग (ईएमएस)। दक्षिण अफ्रीका के तेज गेंदबाज डेल स्टेन ने टेस्ट क्रिकेट से संन्यास ले लिया है हालांकि वह एकदिवसीय और टी20 मुकाबले खेलते रहेंगे। दक्षिण अफ्रीका की ओर से सबसे ज्यादा टेस्ट विकेट लेने वाले 36 साल के स्टेन ने कहा, ‘‘आज मैं खेल के उस प्रारूप को अलविदा कह रहा हूं जिसे मैं सबसे अधिक चाहता हूं। ’’ स्टेन ने 2004 में इंग्लैंड के खिलाफ पोर्ट एलिजाबेथ में टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण किया था। उन्होंने अपना अंतिम टेस्ट मैच इसी मैदान पर श्रीलंका के खिलाफ इस साल फरवरी में खेला था।

स्टेन ने कहा, ‘‘मेरी राय में टेस्ट क्रिकेट इस खेल का सर्वश्रेष्ठ प्रारूप है। यह मानसिक, शारीरिक और भावनात्मक रूप से आपकी परीक्षा लेता है। यह सोचकर बहुत बुरा लग रहा है कि मैं आगे टेस्ट नहीं खेल पाऊंगा लेकिन फिर कभी नहीं खेल पाने के बारे में सोचकर तो रूह ही कांप उठती है। ’’ उन्होंने कहा, ‘‘इसलिए मैं अब अपना पूरा ध्यान सीमित ओवरों के प्रारुप पर लगाऊंगा और तय करूंगा कि मैं खेल में लंबे समय तक खेल सकूं। मैं अब दक्षिण अफ्रीका की तरफ से छोटे प्रारूपों में खेलना जारी रखने को लेकर उत्साहित हूं। ’’

स्टेन ने 93 टेस्ट मैचों में 439 विकेट लिये हैं और वह सर्वाधिक टेस्ट विकेट लेने वाले गेंदबाजों में की सूची में शीर्ष दस में शामिल हैं। उन्होंने अपने करियर में 26 बार पारी में पांच या इससे अधिक विकेट और मैच में पांच बार दस या इससे अधिक विकेट लिये। उन्होंने निचले क्रम के बल्लेबाज के रूप में 1251 रन भी बनाये जिसमें दो अर्धशतक शामिल हैं। स्टेन अपने करियर के दौरान चोटों से जूझते रहे। चोटिल होने के कारण ही वह पिछले महीने इंग्लैंड में समाप्त हुए विश्व कप में भी नहीं खेल पाये थे।

क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका (सीएसए) के मुख्य कार्यकारी तबांग मूरे ने स्टेन को ‘सर्वकालिक महान क्रिकेटरों से एक’ करार दिया। उन्होंने कहा, ‘‘वह विश्व क्रिकेट के बेजोड़ तेज गेंदबाजों से में एक था। उन्होंने दक्षिण अफ्रीकी आक्रमण की शानदार तरीके से अगुवाई की और हमारी भविष्य की पीढ़ियों के लिये एक मानदंड तैयार किया। वह हमारे युवा तेज गेंदबाजों के लिये बेहतरीन मेंटर रहे हैं।’’

Leave a comment