मनप्रीत कौर दोबारा डोप टेस्ट में फेल, वल्र्ड चैंपियनशिप से होंगी बाहर

जागरूक टाइम्स 36 May 24, 2018
नई दिल्ली। भारत की शीर्ष शाटपुट खिलाड़ी मनप्रीत कौर को दूसरी बार प्रतिबंधित पदार्थ के सेवन का दोषी पाये जाने के बाद अस्थायी रूप से प्रतिबंधित किया गया। उन्हें दो दिन पहले भी दोषी पाया गया था, जिसके चलते अब वह विश्व चैंपियनशिप से बाहर हो गई हैं। मनप्रीत के मूत्र के ए नमूने चीन के जिन्हुआ में 24 अप्रैल को हुई एशियाई ग्रां प्री के पहले चरण के दौरान लिये गये थे जिसमें प्रतिबंधित स्टेरायड और स्टिम्युलेंट के अंश मिले। >> एशियाई एथलेटिक्स में जीता था गोल्ड पंजाब की इस 27 वर्षीय एथलीट ने चीन में 18।86 मीटर की दूरी से स्वर्ण पदक जीता था और चार से 13 अगस्त को लंदन में होने वाली विश्व चैंपियनशिप के लिये क्वालीफाई किया था। मनप्रीत ने हाल में भुवनेश्वर में समाप्त हुई एशियाई एथलेटिक्स चैंपियनशिप में भी स्वर्ण पदक जीता था। वह अब विश्व एथलेटिक्स चैंपियनशिप में भाग नहीं ले पाएगी क्योंकि भारतीय एथलेटिक्स महासंघ (एएफआई) ने उन्हें डोपिंग में सकारात्मक पाये जाने के बाद अस्थायी रूप से प्रतिबंधित कर दिया। एएफआई अध्यक्ष आदिले सुमरिवाला ने कहा कि हमें सूचना मिली है कि मनप्रीत फिर से स्टेरायड और स्टिम्युलेंट के सेवन की दोषी पायी गयी हैं। एएफआई ने उन पर अस्थायी निलंबन लगा दिया है। वह अब विश्व चैंपियनशिप टीम से बाहर हो जायेंगी। >> लग सकता है 4 साल का प्रतिबंध एशियाई ग्रां प्री महाद्वीपीय संचालन संस्था एशियाई एथलेटिक्स संघ के अंतर्गत करायी गयी थी। अगर मनप्रीत का बी नमूना भी पाजीटिव पाया जाता है तो उस पर पहली बार डोपिंग में लिप्त पाये जाने के लिये चार साल तक का प्रतिबंध लग सकता है। मनप्रीत को एक से चार जून तक पटियाला के फेडरेशन कप राष्ट्रीय चैंपियनशिप के दौरान राष्ट्रीय डोपिंग रोधी एजेंसी के अधिकारियों द्वारा एकत्रित किये गये मूत्र के नमूने में प्रतिबंधित स्टेरायड और स्टिम्युलेंट का पाजीटिव पाए जाने दोषी पाया गया। यह देश के लिये काफी शर्मनाक घटना है जिससे मनप्रीत द्वारा भुवनेश्वर में जीता गया स्वर्ण पदक भी छीना जायेगा।

Leave a comment