भारत ने इंग्लैंड को तीसरे टेस्ट में 203 रनों से हराया

जागरूक टाइम्स 219 Aug 22, 2018

मैन ऑफ द मैच विराट ने बाढ़ पीड़ियों को समर्पित की जीत

नौटिंघम । भारत ने मेजबान इंग्लैंड को यहां तीसरे टेस्ट में 203 रनों से हराने के साथ ही टेस्ट सीरीज में अपनी पहली जीत दर्ज की है। इसी के साथ भारतीय टीम की वापसी की संभावनाएं भी जाग गयी हैं। पांच मैच की सीरीज में अब स्कोर 2-1 हो गया है। पहले दोनो टेस्ट मेजबान टीम ने जीते थे। अब तीसरा टेस्ट भारत ने जीता है। पांचवें और अंतिम दिन भारतीय स्पिनर आर अश्विन ने तीसरे ही ओवर में एंडरसन को अजिंक्य रहाणे के हाथों कैच आउट कराने के साथ ही इंग्लैंड की पारी समेट दी। इस तरह से इंग्लैंड टीम 521 रनों के विशाल लक्ष्य का पीछा करते हुए अपनी दूसरी पारी में 317 रनों पर ही ऑलआउट हो गई।

इंग्लैंड की ओर से जोस बटलर ने सबसे ज्यादा 106 और बेन स्टोक्स ने 62 रन बनाए पर यह दोनो अपनी टीम की हार नहीं टाल पाये। वहीं भारत की ओर से जसप्रीत बुमराह ने 85 रन देकर 5 विकेट लिए। इस मैच में भारतीय कप्तान विराट कोहली ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए पहली पारी में 97 और दूसरी पारी में 103 रन बनाए। विराट को इस शानदार प्रदर्शन के लिए मैन ऑफ द मैच का अवार्ड मिला। कप्तान कोहली ने मैच जीतने के बाद कहा कि वह इस जीत को केरल के बाढ़ पीड़ियों को समर्पित करते हैं।

भारतीय टीम ने इस जीत के साथ ही एक बार फिर साबित किया है कि वह विदेशों में किसी भी टीम को हराने की क्षमता रखती है। इस मैच में मेजबानों ने टॉस जीतकर भारतीय टीम को पहले बल्लेबाजों का अवसर दिया और भारतीय टीम ने इसका लाभ उठाते हुए अपनी पहली पारी में 329 रन बनाये। जवाब में मेजबान टीम अपनी पहली पारी में 161 रन पर ही ढेर हो गई।

इस तरह भारत को पहली पारी के आधार पर 168 रनों की बढ़त हासिल हुई। इसके बाद टीम इंडिया ने अपनी दूसरी पारी में 7 विकेट पर 352 रन बनाकर पारी घोषित कर दी और मेजबान इंग्लैंड के सामने जीत के लिए 521 रनों का विशाल लक्ष्य रखा। विशाल लक्ष्य का पीछा करने उतरी इंग्लैंड की टीम जसप्रीत बूमराह, ईशांत शर्मा , हार्दिक पंडया और अन्य भारतीय गेंदबाजों का सामना नहीं कर पायी।

आंकड़ों पर नजर डालें तो यह टीम इंडिया की इंग्लैंड में अबतक की 7वीं जीत है। वहीं टेस्ट में कप्तान के तौर पर विराट कोहली को 22वीं जीत मिली है। इसी के साथ विराट ने टेस्ट में जीत के मामले में सौरव गांगुली 21 जीत को पीछे छोड़ दिया है। पहले नंबर पर एमएस धोनी (27 जीत) के साथ हैं। पांचवें और अंतिम दिन खेल शुरु होने के तीसरे ओवर में ही इंग्लैंड की टीम 521 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए अपनी दूसरी पारी में 317 रनों पर ही सिमट गयी।

यह टीम इंडिया की ट्रेंट ब्रिज के मैदान पर दूसरी जीत है। यहां के अलावा भारत ने लॉर्ड्स और और लीड्स में भी 2-2 मैच जीते हैं। इस तरह से इंग्लैंड का ये तीसरा मैदान है जहां टीम इंडिया ने 2 मैच जीते हैं। भारत ने इंग्लैंड में अब तक कुल 7 मैच जीते हैं।

यह पांचवीं बार है जब शुरुआती दो टेस्ट हारकर भारतीय टीम तीसरा मैच जीती है। इसके पहले साल 1974-75 में वेस्टइंडीज के खिलाफ, साल 1977-78 में आस्ट्रेलिया के खिलाफ, साल 2008 में पर्थ में ऑस्ट्रेलिया और साल 2018 में द. अफ्रीका के खिलाफ में यह कारनामा किया था।

38 टेस्ट के बाद सबसे ज्यादा जीत हासिल करने के मामले में विराट दुनिया में तीसरे नंबर पर हैं। पहले नंबर पर 30 जीत के साथ रिकी पोंटिंग, दूसरे नंबर पर 27 जीत के साथ स्टीव वॉ और तीसरे नंबर पर 22 जीत के साथ माइकल वॉन और विराट संयुक्त रूप से हैं।

यह भारत की इंग्लैंड के खिलाफ रन के हिसाब से तीसरी सबसे बड़ी जीत है। पहली सबसे बड़ी जीत साल 1986 में मिली थी। इस दौरान टीम इंडिया ने लीड्स में इंग्लैंड को 279 रनों से हराया था। इसके बाद साल 2016 में विशाखापत्तनम में 246 रनों से हराया था। इस सीरीज का चौथा टेस्ट 30 अगस्त से साउथेंपटन में शुरु होगा जबकि पांचवां व अंतिम टेस्ट ओवल में सात सितंबर से खेला जाएगा।

Leave a comment