जीत के साथ वापसी करने उतरेगी टीम इंडिया

जागरूक टाइम्स 76 Aug 8, 2018

लार्ड्स । भारतीय टीम गुरुवार को यहां मेजबान इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे क्रिकेट टेस्ट में जीत के साथ ही सीरीज में वापसी की उम्मीदों के साथ उतरेगी। पांच टेस्ट मैचों की इस सीरीज में अभी भारतीय टीम 1-0 से पीछे है। ऐसे में पहला मैच हारने के बाद भारतीय टीम लॉर्ड्स में जब उतरेगी तो उसकी कोशिश बेहतर प्रदर्शन कर जीत दर्ज करना रहेगा।

भारतीय टीक को पहले टेस्ट में बल्लेबाजों के खराब प्रदर्शन के कारण हार का सामना करना पड़ा था। कप्तान विराट कोहली को छोड़कर कोई भी अन्य बल्लेबाज रन नहीं बना पाया। अगर विराट को पहले टेस्ट में अन्य बल्लेबाजों का सहयोग मिला होता तो परिणाम कुछ ओर होता। जहां तक गेंदबाजों का सवाल है। उन्होंने उम्मीद के अनुरुप प्रदर्शन किया। तेज गेंदबाजों के साथ ही स्पिनर आर अश्विन ने भी शानदार प्रदर्शन किया। अब टीम इंडिया के सामने सीरीज 1-1 से बराबर करने की चुनौती है।

पहले टेस्ट में बल्लेबाजों के नाकाम रहने के बावजूद गेंदबाजी कोच भरत अरुण ने अतिरिक्त बल्लेबाज को उतारने की संभावना से इनकार किया। उन्होंने यह भी कहा कि दूसरे स्पिनर पर विचार हो सकता है।
ऐसे में उमेश यादव को बाहर रहना पड़ सकता है, क्योंकि ईशांत शर्मा, मोहम्मद शमी और हार्दिक पंड्या तेज गेंदबाजी का जिम्मा संभालेंगे। भारतीय टीम को 2014 के अपने पिछले दौरे में यहां इंग्लैंड पर 95 रनों से जीत मिली थी। तब टीम के कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी थे। अब देखना है विराट कोहली के नेतृत्व में टीम उसी कामयाबी को दोहरा पाती है या नहीं।

2014 में जब यहां भारत ने जीत दर्ज की थी तब उस टीम में विराट कोहली, मुरली विजय, अजिंक्या रहाणे,चेतेश्वर पुजारा, शिखर धवन, रवींद्र जडेजा, इशांत शर्मा, मोहम्मद शमी भी शामिल थे और ऐसे में इन खिलाड़ियों के अनुभवों का लाभ युवाओं को मिलेगा। इन सभी ने तब अच्छी बल्लेबाजी की थी हालांकि विराट नाकाम रहे थे। इस बार विराट पहले टेस्ट से ही शानदार फार्म में हैं पर अन्य बल्लेबाज लय में नहीं हैं। वहीं तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार चोट के कारण टीम से बाहर हैं ऐसे में इशांत शर्मा और मो शमी पर अधिक दारोमदार रहेगा।

आंकड़ों में मेजबान टीम भारी
आंकड़ों पर नजर डालें तो इस मैदान पर भारत-इंग्लैंड का 17 बार मुकाबला हो चुका है। जिसमें इंग्लैंड ने 11 जीते, 4 ड्रा, जबकि 2 भारत ने जीते हैं। इस बार भारतीय टीम पिछले नया इतिहास रचना चाहेगी। भारत को अगर सीरीज में रोमांच पैदा करना है तो उन्हें जीत हासिल करनी ही होगी ताकि सीरीज 1-1 की बराबरी पर आ सके।

पुजारा को मिल सकता है मौका
भारतीय टीम सीरीज में पिछडऩे के बाद टीम में कुछेक बदलाव कर सकती है। वहीं दूसरी ओर इंग्लैंड की टीम को एजबस्टन में शानदार प्रदर्शन करने वाले ऑलराउंडर बेन स्टोक्स को अदालती मामला होने के कारण टीम से बाहर करना पड़ा है।स्टोक्स की जगह क्रिस वोक्स को टीम में बुलाया गया है जबकि नये सरे बल्लेबाज ओली पोप को भी टीम में शामिल किया गया है। टीम इंडिया में संभवत: दूसरे मैच में शुरुआती क्रम में बदलाव देखने को मिलें।

मुरली, शिखर और लोकेश राहुल तीनों ने ही पहले टेस्ट की दोनों पारियों में निराश किया। पहले मैच में हालांकि बल्लेबाजों में पुजारा की कमी खली जिन्हें बेंच पर बैठाया गया था। इसके अलावा टीम एक अतिरिक्त स्पिनर के साथ उतर सकती है। यदि दूसरा स्पिनर उतारा जाता है तो लेफ्ट आर्म स्पिनर रविन्द्र जडेजा या चाइनामैन कुलदीप यादव में से किसी एक को चुना जाएगा। पिछली सीरीज में जडेजा का प्रदर्शन संतोषजनक था तो इंग्लैंड दौरे पर सीमित ओवर सीरीज में कुलदीप प्रभावशाली रहे हैं।

दोने टीमें इस प्रकार हैं-
भारत
विराट कोहली (कप्तान), शिखर धवन, मुरली विजय, केएल राहुल, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे, दिनेश कार्तिक, ऋषभ पंत, करुण नायर, हार्दिक पंड्या, आर अश्विन, रवींद्र जडेजा, कुलदीप यादव, ईशांत शर्मा, उमेश यादव, शार्दुल ठाकुर, मोहम्मद शमी, जसप्रीत बुमराह।

इंग्लैंड
जो रूट (कप्तान), एलिस्टेयर कुक, कीटोन जेनिंग्स, जॉनी बेयरस्टॉ, जोस बटलर, ओलिवर पोप, मोईन अली, आदिल राशिद, जैमी पोर्टर, सैम कुरेन, जेम्स एंडरसन, स्टुअर्ड ब्रॉड, क्रिस वोक्स।

Leave a comment