रोहित के पास टेस्ट में जगह पक्की करने अंतिम अवसर : गंभीर

जागरूक टाइम्स 495 Sep 13, 2019

सफल नहीं हुए तो अन्य बल्लेबाज को आजमायें

नई दिल्ली (ईएमएस)। भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर ने कहा है कि रोहित शर्मा सीमित ओवर प्रारूप के बेहद खतरनाक खिलाड़ी हैं, पर साथ ही हमें यह मानना होगा कि दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट सीरीज उनके लिए करो या मरो की स्थिति होगी। गंभीर ने कहा कि अगर रोहित टेस्ट क्रिकेट में अच्छा प्रदर्शन करते हैं तो उनके लिए पूरी दुनिया है, लेकिन अगर वे ऐसा नहीं कर पाते हैं तो फिर पार की शुरुआत के लिए किसी और बल्लेबाज को आजमाने का वक्त आ जाएगा। गंभीर ने कहा कि घरेलू सीरीज के लिए मैं रोहित को ओपनिंग करते हुए देखना चाहता और बैकअप के तौर पर एक युवा खिलाड़ी को रखता। गंभीर ने कहा कि मैं ऐसा नहीं करता कि रोहित को टीम में चुन लिया जाए और उन्हें बैंच पर बैठाए रखा जाए। अगर उन्हें टीम में चुना गया है तो फिर उनसे ओपनिंग कराई जानी चाहिए। मैंने हमेशा कहा है कि ये खिलाड़ी बैंच पर बैठाए रखने के लिए नहीं है। अगर उनके लिए मध्यक्रम में कोई जगह नहीं है तो फिर उन्हें सलामी बल्लेबाज के तौर पर ही उतारना चाहिए।

गंभीर ने खुलासा करते हुए कहा कि आईपीएल के दौरान रोहित शर्मा और एबी डीविलियर्स ने मेरी रातों की नींद उड़ा दी थी। रोहित ने अपने छह साल के टेस्ट करियर में महज 27 ही मैच खेले हैं। इस दौरान उन्होंने 39.62 की औसत से 1585 रन बनाए हैं। इस प्रारूप में उनके नाम तीन शतक हैं, जिनमें से दो शतक उन्होंने 2013 में वेस्टइंडीज के खिलाफ अपनी पहली सीरीज में लगाए थे। गंभीर के अनुसार, ऐसा नहीं है कि रोहित को मौके नहीं मिले। वे इस बात की शिकायत बिल्कुल नहीं कर सकते। बल्कि मेरा मानना है कि जितने मौके अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में रोहित शर्मा को मिले हैं उतने किसी अन्य बल्लेबाज को नहीं मिले होंगे। उन्होंने कहा कि बेशक टेस्ट क्रिकेट में ओपनिंग करना चुनौतीपूर्ण काम है, लेकिन रोहित अपनी मानसिकता बदलकर ये काम कर सकते हैं।



Leave a comment