भारत बढ़ती आर्थिक ताकत, पाकिस्तान से ज्यादा भारत में निवेश करेगा सउदी: विदेश मंत्री अदेल बिन

जागरूक टाइम्स 327 Feb 25, 2019

महाराष्ट्र में बना रहा दुनिया की सबसे बड़ी रिफाइनरी

नई दिल्ली (ईएमएस)। सऊदी अरब कच्चे तेल की आपूर्ति के लिए भारत को क्षेत्रीय केंद्र बनाने पर विचार कर रहा है। भंडारण सुविधाओं के निर्माण और रिफाइनरी को बेहतर करने में लिए उनका देश अरबों डॉलर निवेश करेगा। यह बात सऊदी अरब के विदेश मंत्री अदेल बिन अहमद अल-जुबेर ने कही। दुनिया का सबसे बड़ा तेल निर्यातक सऊदी अरब भारत में पेट्रोलियम प्रॉडक्ट्स के डिस्ट्रीब्यूशन और मार्केटिंग क्षेत्र में भी निवेश करेगा।

बता दें कि सऊदी ने पाकिस्तान में सिर्फ 1.42 लाख करोड़ के निवेश की बात कही है। इसके साथ ही सऊदी भारत को पेट्रो केमिकल सेक्टर में बुनियादी ढांचे को मजबूत करने में मदद करेगा। सऊदी अरब के प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान के प्रतिनिधिमंडल में शामिल विदेश मंत्री ने कहा कि उनका देश भारत को बढ़ती आर्थिक शक्ति के रूप में देखता है और उसकी आगे की वृद्धि को लेकर आशावान है। अल जुबेर ने कहा कि हम भारत को क्षेत्र में कच्चे तेल की आपूर्ति का केंद्र बनाने पर गौर कर रहे हैं। हम यहां भंडारण सुविधाएं बनाने पर विचार कर रहे हैं। हम रिफाइनरी और डिस्ट्रीब्यूशन और मार्केटिंग क्षेत्र पर भी गौर कर रहे हैं।

सऊदी अरब ने यह घोषणा की कि दुनिया की सबसे बड़ी तेल निर्यातक कंपनी सऊदी अराम को महाराष्ट्र में 44 अरब डॉलर की लागत से संयुक्त उद्यम के तहत स्थापित होने वाली रिफाइनरी परियोजना में भागीदार होगी। यह दुनिया की सबसे बड़ी रिफाइनरी होगी जिसका निर्माण एक बार में किया जाएगा। अल-जुबेर ने कहा कि हम भारत की भागीदारी के साथ 44 अरब डॉलर की लागत सबसे बड़ा रिफाइनरी परिसर बना रहे हैं। सऊदी अरब के विदेश मंत्री ने यह भी कहा कि उनका देश भारत की तेल मांग को पूरा करने को प्रतिबद्ध है और अधिक कच्चा तेल बेचने को तैयार है।

Leave a comment