पीएम मोदी ने राहुल से पूछा, क्या मुस्लिम महिलाओं की पार्टी नहीं है कांग्रेस?

जागरूक टाइम्स 276 Jul 14, 2018

सपा और बसपा के महागठबंधन पर क्या तंज

आजमगढ़ : मिशन 2019 की तैयारी के तहत उत्तरप्रदेश के दौरे पर निकले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार को आजमगढ़ पहुंचकर प्रदेश की सबसे बड़ी परियोजना पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का शिलान्यास किया। इसके बाद एक जनसभा को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने हाल में राहुल गांधी की मुस्लिम समुदाय से बैठक पर तंज करते हुए कहा कि कांग्रेस के नामदार कह रहे हैं कि उनकी पार्टी मुसलमानों की है। इससे पहले मनमोहन सिंह कह चुके थे कि देश के संसाधनों पर पहला हक मुसलमानों का है,लेकिन कांग्रेस ये बताए कि उनकी पार्टी मुस्लिम पुरुषों की है,महिलाओं की नहीं है क्या?

दरअसल,राहुल गांधी की बैठक के बाद उर्दू मीडिया में खबर आई थी कि राहुल गांधी ने कांग्रेस को मुसलमानों की पार्टी बताया है। जिसके बाद शनिवार को आजमगढ़ में जनसभा को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने यह टिप्पणी की और तीन तलाक पर कांग्रेस पार्टी के स्टैंड को लेकर राहुल गांधी को घेरने की कोशिश की।

पीएम मोदी ने कहा कि एक तरफ जहां केंद्र सरकार महिलाओं के जीवन को आसान बनाने के लिए प्रयास कर रही है, वहीं ये दल मिलकर महिलाओं और विशेषकर मुस्लिम बहन-बेटियों के जीवन को और संकट में डालने का काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा,लाखों-करोड़ों मुस्लिम बहनों की मांग थी कि तीन तलाक को बंद किया जाए, लेकिन संसद में कानून पास नहीं होने दिया गया।

इसके मौके पर यूपी में भाजपा की राह में रोड़ा बन रहे महागठबंधन भी रहा। सपा-बसपा गठबंधन पर चुटकी लेते हुए पीएम मोदी ने कहा कि कभी ये दोनों एक-दूसरे को फूटी आंख नहीं सुहाते थे, लेकिन आज अपना वजूद बचाने के लिए साथ-साथ चलने को मजबूर हो गए हैं। पीएम मोदी ने अपने भाषण में कहा, बाबा साहब अंबेडकर और राम मनोहर के नाम पर यूपी की इन दोनों पार्टियों ने केवल अबतक राजनीति की है। इन्हें गरीबों की भलाई से कोई लेना-देना नहीं है।

गरीब,दलित, पिछड़ों से वोट मांगे और इनके नाम पर अपनी राजनीति की, लेकिन कभी उनके बारे में गंभीरता से सोचा नहीं। पीएम ने कहा कि जितने भी लोग जमानत पर हैं, जितने भी परिवार वाले लोग हैं वो जनता के विकास को रोकना चाहते हैं। पीएम मोदी की मानें तो गरीब, किसान, पिछड़े अगर सशक्त हो गए तो इनकी दुकानें हमेशा के लिए बंद हो जाएंगी।

सभी परिवारवादी पार्टियां मिलकर आपके विकास को रोकने पर तुली हुई हैं। तीन तलाक मुद्दे को लेकर भी पीएम मोदी ने कांग्रेस, सपा और बसपा पर कड़ा प्रहार करते हुए कहा कि लाखों-करोड़ों मुस्लिम बहनों की मांग थी कि तीन तलाक को बंद किया जाए, लेकिन इन सारे दलों की पोल तो तीन तलाक पर इनके रवैये ने भी खोल दी है।तीन तलाक को लेकर संसद में इनके रवैये को पूरे देश ने देखा। जब बीजेपी सरकार ने तीन तलाक का कानून लाने की कोशिश की तो कांग्रेस ने उसमें भी बाधा पैदा करने की कोशिश की।

इस मौके पर पीएम ने योगी सरकार की तारीफ करते हुए कहा कि विकास के लिए नीयत होनी चाहिए। आजादी के बाद 70 वर्षों में जितना काम हुआ उतना सिर्फ 4 साल में बीजेपी सरकार ने करके दिखाया है। यूपीए सरकार ने सिर्फ अपने परिवार का भला किया है। कांग्रेस जैसे दल आज 21वीं सदी में भी 18वीं सदी में जी रहे हैं। जनता की हर जरूरत के प्रति सरकार संवेदनशील है। मोदी को हटाने वाले का नारा देने वाले देश को विकास नहीं दे सकते।

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पूर्वांचल के दो दिवसीय दौरे पर हैं। पीएम बनन के बाद पहली बार आजमगढ़ की जमीन पर कदम रखा। इस दौरान उन्होंने यूपी की सबसे बड़ी परियोजना पूर्वांचल एक्सप्रेसवे का शिलान्यास किया। पीएम के इस दौरे को मिशन 2019 की शुरुआत माना जा रहा है। उन्होंने भोजपुरी में भाषण की शुरुआत की। उन्होंने कहा कि यूपी के विकास में की गंगा बहेगी, गंगा बहेगी।

Leave a comment