'आयुष्मान भारत' योजना तोड़ रही है बीमारी के दुष्चक्र को : पीएम मोदी

जागरूक टाइम्स 908 Sep 23, 2019

नई दिल्ली (ईएमएस)। स्वास्थ्य से जुड़ी केंद्र सरकार की योजना‘आयुष्मान भारत' को एक साल पूरा हो गया है और इससे देश का अधिकतम गरीब वर्ग लाभान्वित हुआ है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को ‘आयुष्मान भारत' को एक स्वास्थ्य योजना से कहीं अधिक बताते हुए कहा कि यह गरीबी और बीमारी के दुष्चक्र को तोड़ रही है। अमेरिका की यात्रा पर गए मोदी ने आयुष्मान भारत योजना के एक वर्ष पूरा होने के मौके पर ट्वीट कर लिखा कि ‘आयुष्मान भारत' एक स्वास्थ्य योजना से कहीं अधिक है क्योंकि यह देश के 50 करोड़ से अधिक कमजोर वर्ग के लोगों के लिए आशा की किरण है। यह योजना गरीबी और बीमारी के दुष्चक्र को तोड़ रही हैं, जिससे सस्ती स्वास्थ्य सेवा सहजता से सुलभ हो रही है।

मोदी सरकार स्वास्थ्य सेवा क्षेत्र की यह महत्वाकांक्षी योजना पिछले साल 23 सितंबर को झारंखड की राजधानी रांच से शुरु की गई। राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण(एनएचए) के आंकड़ों के अनुसार प्रथम वर्ष में इस योजना का 46 लाख 40 हजार लोगों ने लाभ उठाया। इन लोगों का योजना के तहत देश के विभिन्न अस्पतालों में उपचार हुआ जिस पर करीब साढ़े सात हजार करोड़ रुपए की राशि व्यय हुई। इस योजना के तहत प्रत्येक गरीब परिवार को पांच लाख रुपए का वार्षिक स्वास्थ्य बीमा उपलब्ध कराया जाता है। बीमा की राशि का भुगतान सरकार करती है। इस योजना को एनएचए और विभिन्न राज्य सरकार मिलकर चला रही हैं और एक साल में पत्र लाभार्थियों को दस करोड़ से अधिक ई-कार्ड जारी किए जा चुके हैं।


Leave a comment