देशभर में रेल, बस और मेट्रो का सफर सिर्फ एक कार्ड से

जागरूक टाइम्स 46 Sep 4, 2018

नई दिल्ली : केन्द्र सरकार देश में ऐसा कार्ड लाने की तैयारी कर रही है, जिससे सभी तरह के परिवहन यानी रेल, बस और मेट्रो के किराए दिए जा सकेंगे। नीति आयोग के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) अमिताभ कांत ने बताया कि सभी राज्यों से सुझाव मांगे गए हैं। जल्द ही यह कार्ड लॉन्च कर दिया जाएगा। ग्लोबल मोबिलिटी समिट में भविष्य के वाहन कैसे हों, विषय पर आयोजित कॉन्फ्रेंस में अमिताभ कांत ने ये बातें कहीं।

उन्होंने कहा कि सरकार ‘वन नेशन वन कार्ड' की दिशा में काम कर रही है।चाहे रेल हो या बस, वाटर वेज, मेट्रो, एप आधारित परिवहन कंपनी अथवा ऑटो, सभी का भुगतान देश के किसी भी हिस्से में एक कार्ड के जरिए हो सकेगा। उन्होंने बताया कि सभी राज्य इससे जुड़े तकनीकी पहलुओं पर विचार कर अपनी ङरिपोर्ट सौपेंगे। इस रिपोर्ट के आधार पर ही देशभर में एक कार्ड को लागू करने की दिशा में काम शुरू कर दिया जाएगा।

नीति आयोग के सीईओ अमिताभ कांत ने यह भी कहा कि २०२५-२६ तक देश में बैटरी की कीमत में भारी गिरावट होने वाली है, जिससे इलेक्ट्रिक वाहनों का निर्माण सस्ता हो जाएगा। साथ ही नवोन्मेष के भी तमाम मौके बढ़ेंगे। सीआईआई ने एक मसौदा तैयार किया है जिसमें सिफारिश की गई है कि सरकार इलेक्ट्रिक गाड़ियों के लिए बिजली चार रुपये प्रति यूनिट की दर से मुहैया कराए। साथ ही पुर्जों पर जीएसटी की दर घटाकर ५ प्रतिशत की जाए।

Leave a comment