डीडीए का न्यू ईयर गिफ्ट : दिल्ली में लॉन्च होंगे 21000 फ्लैट

जागरूक टाइम्स 72 Oct 6, 2018

नई दिल्ली । दिल्ली विकास प्राधिकरण (डीडीए) की नई आवासीय योजना में सौर ऊर्जा पर खासा जोर होगा। पहली बार डीडीए फ्लैटों की छत पर सोलर पैनल लगाने जा रहा है। इनसे उत्पन्न बिजली से न सिर्फ लिफ्ट चलेंगी, बल्कि स्ट्रीट-पार्किंग लाइटें भी जलेंगी। 21 हजार फ्लैटों की यह योजना इसी वर्ष लांच होने की संभावना है। फ्लैटों में बुनियादी सुविधाएं अग्रिम तौर पर उपलब्ध कराने का काम जोरों पर चल रहा है।

जिन इलाकों में नई आवासीय योजना के फ्लैट शामिल हैं, वहां पानी, बिजली, परिवहन, सुरक्षा संबंधी सुविधाओं के लिए डीडीए की टीम जल बोर्ड, बिजली कंपनियों, मेट्रो प्रबंधन, डीटीसी और पुलिस के साथ मिलकर उन तमाम शिकायतों को दूर करने में जुटी हैं, जो योजना के आवंटी बाद में कर सकते हैं। डीडीए चाहता है कि अबकी बार जब आवेदक फ्लैट देखने जाएं तो उन्हें कोई निराशा न हो।

गौरतलब है कि वर्ष 2014 एवं 2017 की आवासीय योजनाओं में अधिकांश ईडब्ल्यूएस और एलआइजी फ्लैट लोगों ने डीडीए को वापस लौटा दिए थे। इसकी बड़ी वजह, इनका साइज काफी छोटा तथा तमाम बुनियादी सुविधाओं का अभाव होना है। डीडीए नई योजना का ऐसा हश्र नहीं चाहता। इसीलिए फ्लैटों के साइज को भी पहले से बेहतर किया जा रहा है। डीडीए के एक अधिकारी ने ऐसी हर अटकल को गलत बताया कि इस बार नई योजना ड्रॉप की जा सकती है।

उन्होंने कहा कि पिछली योजनाओं से कुछ सबक लेते हुए इस बार उन्हें समय पूर्व ही सुधारने का प्रयास चल रहा है। यही वजह है कि 2018 की इस आवासीय योजना की लांचिंग कुछ लंबित हो गई। पिछली योजना का कुछ ऐसा रहा था हाल वर्ष 2017 की आवासीय योजना में करीब 5500 आवंटियों ने अपने एलआइजी फ्लैट वापस कर दिए थे। विभिन्न लोकेशनों पर डीडीए के इस तरह के 11000 से अधिक फ्लैट फंसे हुए हैं। सिरसपुर, नरेला, रोहिणी जैसे इलाकों मे बने फ्लैट तो डीडीए केजी का जंजाल बन गए हैं। तरुण कपूर (उपाध्यक्ष, डीडीए) ने बताया कि नई आवासीय योजना ड्रॉप नहीं हुई है। फ्लैट लगभग तैयार हैं, लेकिन जो बुनियादी सुविधाएं रह गई हैं, उन्हें भी सुनिश्चित किया जा रहा है। फ्लैटों की छत पर सोलर पैनल नया प्रयोग होगा।

Leave a comment